World Cup 2019: दक्षिण अफ्रीका के इस दिग्गज ने कहा- हमारे पास 11 नंबर तक मैचविनर हैं

दक्षिण अफ्रीका आईसीसी वनडे रैकिंग में चौथे नंबर पर है. जब से एबी डिविलियर्स ने संन्यास लिया है, तब से इस टीम का X फैक्टर निकल गया है. 

World Cup 2019: दक्षिण अफ्रीका के इस दिग्गज ने कहा- हमारे पास 11 नंबर तक मैचविनर हैं
डेल स्टेन (बाएं से दूसरे) ने 2011 के विश्व कप में भारत के खिलाफ 5 विकेट झटके थे. मैच दक्षिण अफ्रीका ने जीता था. (फोटो: PTI)

नई दिल्ली: बरसों बाद पहली ऐसा हो रहा है कि दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट वर्ल्ड कप (World Cup 2019) खेलने तो जा रहा है, लेकिन उसे कोई चैंपियन बनने का दावेदार नहीं मान रहा है. ऐसा नहीं है कि दक्षिण अफ्रीका की टीम कमजोर है, लेकिन जब से एबी डिविलियर्स ने संन्यास लिया है, तब से इस टीम का X फैक्टर निकल सा गया है. लेकिन यह टीम से बाहर के लोगों की समझ हो सकती है. टीम के सुपरस्टार गेंदबाज डेल स्टेन (Dale Steyn) का मानना कुछ अलग है. दुनिया के बल्लेबाजों में खौफ पैदा करने वाले इस गेंदबाज ने कहा कि उनकी टीम में एक से लेकर 11 नंबर तक मैच विनर हैं. 

आईपीएल में बेंगलुरू टीम से करार करने वाले डेल स्टेन ने कहा, ‘मुझे नहीं लगता कि दक्षिण अफ्रीका दो-ढाई साल में कोई वनडे सीरीज हारा है. इसके बावजूद हमें कोई जीत का दावेदार नहीं मान रहा है तो कोई क्या कर सकता है. लेकिन इतना तय है कि हम जीत की उम्मीद के साथ विश्व कप में उतर रहे हैं. यदि आप, जीत की उम्मीद के साथ नहीं जा रहे हैं तो आपको जाना भी नहीं चाहिए.’ दक्षिण अफ्रीका ने अभी विश्व कप के लिए अपनी टीम की घोषणा नहीं की है. 

यह भी पढ़ें: IPL-12 का ‘सरदार’ कौन, इन 5 गेंदबाजों के आगे रन नहीं बना पाए बल्लेबाज

तेज गेंदबाज डेल स्टेन ने क्रिकइंफो से कहा, ‘मैं झूठ नहीं बोल रहा हूं. हमारे पास कुछ शानदार खिलाड़ी हैं. इनमें से तीन कैगिसो रबाडा, इमरान ताहिर और फाफ डू प्लेसिस पिछले कई महीनों से बेहतरीन फॉर्म में हैं. क्विंटन डिकॉक भी फॉर्म में लौट आए हैं. सच तो यह है कि हमारे पास पहले नंबर से लेकर 11वें नंबर तक ऐसे खिलाड़ी हैं, जो अपने दम पर मैच जिता सकते हैं.’ 

डेल स्टेन ने यह भी कहा कि विश्व कप में रैंकिंग का ज्यादा असर नहीं होने वाला है. जो भी टीम इंग्लैंड की परिस्थितियों में जल्दी ढलेगी, वह जीत की ज्यादा बड़ी दावेदार होगी. 35 साल के डेल स्टेन का यह आखिरी वर्ल्ड कप होगा. उन्होंने दो वर्ल्ड कप में 14 मैच खेले हैं और इनमें 23 विकेट झटके हैं. साल 2011 में खेले गए वर्ल्ड कप में उन्होंने भारत के खिलाफ पांच विकेट झटके थे. दक्षिण अफ्रीका ने वह मैच तीन विकेट से जीता था.