गर्लफ्रेंड के नंबर से मंत्री को लगाया फोन, गृह मंत्री का PA बताकर मांगी नौकरी, गिरफ्तार

पुलिस ने इस मामले में संदीप चौधरी नाम के शख्स को राजस्थान के अलवर से गिरफ्तार किया है.

गर्लफ्रेंड के नंबर से मंत्री को लगाया फोन, गृह मंत्री का PA बताकर मांगी नौकरी, गिरफ्तार

नई दिल्ली: केंद्रीय गृह मंत्री का पीए बताकर राजस्थान के एक मंत्री को फोन करने और नौकरी की सिफारिश करने के आरोप में दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की क्राइम ब्रांच ने एक शख्स को गिरफ्तार किया है. इस मामले में संदीप चौधरी नाम के शख्स को राजस्थान के अलवर से गिरफ्तार किया गया है.

पुलिस ने बताया कि संदीप ने गृह मंत्री का पीए बनकर राजस्थान के श्रम मंत्री टीकाराम को फोन लगाया था और एक शख्स की नौकरी लगवाने के लिए सिफारिश की थी. इतना ही नहीं आरोपी ने हरियाणा में नौकरी पाने के लालच में प्रदेश के श्रम मंत्री अनूप धनक को भी फोन किया था और उनसे भी नौकरी की सिफारिश की थी.

इस बात का जब केंद्रीय मंत्रालय को पता चला तो उन्होंने दिल्ली पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी. जिसके बाद क्राइम ब्रांच ने मामले की जांच करते हुए आरोपी संदीप चौधरी को राजस्थान के अलवर से गिरफ्तार कर लिया है. शुरुआती पूछताछ में आरोपी ने बताया कि वो धारूहेड़ा की हीरो की कंपनी में काम करता था और कोविड-19 की वजह से हाल ही में उसकी नौकरी चली गई थी. जिस कारण वो बेरोजगार हो गया था. 

पुलिस ने आगे बताया कि संदीप को नौकरी की जरूरत थी तो उसने अपनी गर्लफ्रेंड के नाम पर एक एमटीएनएल का सिम खरीदा और गृह मंत्री का पीए बनकर उसने दोनों राज्यों के श्रम मंत्रियों को फोन मिला दिया. आपको बताते चलें कि इससे करीब एक सप्ताह पहले भी क्राइम ब्रांच ने मध्य प्रदेश के रीवा से एक शख्स को ग्रिफ्तार किया था. उसने भी अपने आप को गृह मंत्री का पीएम बताकर धोखाधड़ी की थी.

ये भी पढ़ें:- इस राज्य में कोरोना गाइडलाइन के उल्लंघन पर होगी 2 साल की सजा, 1 लाख तक का जुर्माना

ये भी देखें-