शिक्षण संस्थानों को निशाना बनाने वाला गिरफ्तार, जानिए क्या है UPSC कनेक्शन

ये एक पूरा गैंग है जो किसी कोचिंग सेंटर के वीडियो ऑनलाइन चोरी करने के बाद ज्यादा उंचे रेट पर बेच देता था. दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की साइबर सेल अब पकड़े गए आरोपी से आगे की पूछताछ करने में जुटी है. 

शिक्षण संस्थानों को निशाना बनाने वाला गिरफ्तार, जानिए क्या है UPSC कनेक्शन
प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली : राजधानी दिल्ली (Delhi) की हाईटेक पुलिस ने एक ऐसे युवक को गिरफ्तार किया है. जो UPSC परीक्षा के वीडियो चोरी से डाऊनलोड कर उन्हे बेचता था. आरोपी का नाम प्रियदर्शनी तिवारी है जिसकी उम्र 21 साल है. पुलिस का कहना है की ये एक पूरा गैंग है जो किसी कोचिंग सेंटर के वीडियो ऑनलाइन चोरी करने के बाद ज्यादा उंचे रेट पर बेच देता था. दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की साइबर सेल अब पकड़े गए आरोपी से आगे की पूछताछ करने में जुटी है. 

पुलिस को और खुलासों की उम्मीद
साइबर सेल से जुड़े अधिकारियों के मुताबिक इस गैंग के बाकी सदस्यों की तलाश जारी है. वहीं पुलिस का ये भी मानना है कि पूरे नेटवर्क को खंगालने के बाद उन्हें कुछ और मामलों के बारे में सुराग मिल सकता है.

गौरतलब है कि दिल्ली पुलिस की साइबर सेल बेहद एडवांस है. पिछले साल ही दिल्ली पुलिस ने तीन नए सॉफ्टवेयर खरीदे थे जिससे किसी भी कंप्यूटर या फोन से डिलीट डेटा रिकवर करने के साथ ही क्षतिग्रस्त सिमकार्ड, मेमोरी चिप, मोबाइल से भी डाटा हासिल हो सकेगा. इसके तहत पुलिस के पास नेटवर्क फॉरेंसिक सिस्टम जैसा ब्रह्मास्त्र है जिससे सबसे ज्यादा ट्रैफिक जनरेट होने की लोकेशन और डाटा चुराने वाले पर नजर रखना आसान हो गया है.

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.