दूर से दिख रहा था बिस्किट का डिब्बा, DRI की पैनी नजर ने जब देखा तो रह गए हक्का-बक्का

DRI(राजस्व खुफिया निदेशालय) ने एक आदमी को गिरफ्तार किया है.

दूर से दिख रहा था बिस्किट का डिब्बा, DRI की पैनी नजर ने जब देखा तो रह गए हक्का-बक्का

नई दिल्ली: DRI(राजस्व खुफिया निदेशालय) ने 2829 कछुओं के साथ एक आदमी को गिरफ्तार किया है. ये कछुए चीन(Guangzhou) से श्रीलंका(Colombo) के रास्ते त्रिची लाये गये थे. इन कछुओं को बिस्किटों के डब्बों में छिपा कर लाया गया था. DRI के मुताबिक ये पहला मामला है जब इतनी संख्या में कछुए तस्करी कर भारत लाये गये है, इससे पहले जो मामले आये है उसमें कछुओँ को भारत से दक्षिण एशिया देशों में तस्करी कर ले जाया जाता था जहां इन्हे पालने या फिर खाने के लिये इस्तेमाल किया जाता था. 

DRI ने बताया कि तस्करी कर लाये गये ये कछुए China Pond Tortoise, जिसे Red Eared Terrpin या Red Eared Turtle के नाम से भी जाना जाता है, ये कछुए Emydidae के परिवार से संबध रखते है और इन्हे ऱखना या तस्करी करना Foreign Trade Policy- FTP 2015-2020 के तहत अपराध है. इस प्रजाति के कछुए पालने के काम में लाये जाते है और काफी संख्या में तस्करी की जाती है. ये कछुए तेजी से अपनी संख्या बढ़ाते है लिहाजा इस कारण भी इनकी मांग काफी है. 

DRI ने ये सभी 2829 कछुए वापिस उसी एयरलाइन से चीन भेज दिये क्योंकि ये कछुए CITES (Convention on International Trade in Endangered Species of Wild Fauna and Flora) और Wild Life Protection Act के तहत नहीं आते. इस कानून के अंदर केवल वहीं जानवर, पक्षी या पौधे आते है जिनके लुप्त होने का खतरा है और काफी कम संख्या बची है. 

कस्टम विभाग पिछले दो सालों में 14 मामले दर्ज कर 9000 कछुओं को जब्त कर चुकी है जिन्हे भारत से बाहर तस्करी कर भेजा जा रहा था.