close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

  • 542/542 लक्ष्य 272
  • बीजेपी+

    354बीजेपी+

  • कांग्रेस+

    90कांग्रेस+

  • अन्य

    98अन्य

अपनी सीट खोजें

नालगौंडा

नलगोंडा: तेलंगाना की नलगोंडा (Nalgonda) लोकसभा सीट पर इस बार त्रिकोणीय मुकाबला है. तेलंगाना राष्ट्र समिति (TRS) ने इस बार यहां पर नरसिम्हा रेड्डी पर दांव लगाया है तो कांग्रेस ने उनके खिलाफ उत्तम कुमार रेड्डी को उम्मीदवार बनाया है. वहीं बीजेपी ने गर्लापति जीतेंद्र कुमार और सीपीएम ने मल्लू लक्ष्मी को चुनावी मैदान में उतारा है. इस लोकसभा सीट पर पहले चरण की वोटिंग में 66.11 फीसदी मतदान हुआ. अब 23 मई को आने वाले चुनावी रिजल्ट में इन प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला हो जाएगा.

दरअसल, तेलंगाना की सभी 17 सीटों पर पहले चरण यानी 11 अप्रैल को वोटिंग हो चुकी है. 10 मार्च को लोकसभा चुनावों की घोषणा के बाद 18 मार्च को यहां नोटिफिकेशन निकाला गया और 25 मार्च को नॉमिनेशन की अंतिम तारीख घोषित की गई. इसके बाद 26 मार्च को प्रत्याशियों के नामों पर अंतिम मुहर लगाई गई और 11 अप्रैल को वोटिंग हुई.

2014 के आम चुनाव में नलगोंडा सीट से कांग्रेस के Gutha Sukender Reddy ने जीत हासिल की थी. उन्हें मतदान के 39.69 फीसद यानी 4,72,093 मत मिले थे. वहीं टीडीपी नेता Tera Chinnapa Reddy 23.45 प्रतिशत (2,72,937) वोट पाकर दूसरे नंबर पर रहे थे. इनके अलावा राज्य की सत्तारूढ़ पार्टी टीआरएस के प्रत्याशी Dr.Palla Rajeswar Reddy 21.92 फीसदी मत पाकर तीसरे स्थान पर रहे थे. वहीं, सीपीएम (आई) के उम्मीदवार Nandyala Narsimha Reddy को महज 54,423 वोट मिले.

यहां बता दें कि आजादी के बाद से ही अस्तित्व में आई आंध्रप्रदेश (अब तेलंगाना) की नलगोंडा सीट पर सीपीएम (आई) का कब्जा रहा है. यहां पहली बार रवि नारायण रेड्डी सांसद बने थे. अब तक 16 बार हुए आम चुनावों में सीपीआई को यहां 7 बार फतह मिल चुकी है. वहीं 6 बार कांग्रेस जीत चुकी है. इसके अलावा दो बार टीडीपी और एक बार तेलंगाना प्रजा समिति का प्रतिनिधि इस सीट से चुनकर संसद में जा चुका है.

पता हो कि भारत के आंध्रप्रदेश राज्य से अलग होकर तेलंगाना भारत का 29वां राज्य बना था. दोनों राज्यों की संयुक्त राजधानी हैदराबाद है. राज्य में मुख्यमंत्री के. चन्द्रशेखर राव की अगुवाई में टीआरएस पार्टी की सरकार है. इस राज्य में 119 विधानसभा सीटें और 17 लोकसभा सीटें हैं. वहीं प्रदेश में कुल जिलों की संख्या 31 है.

और पढ़े

और पढ़े

उम्मीदवार पार्टी वर्तमान स्थिति कुल वोट
उत्तम कुमार रेड्डी नालमदा कांग्रेस

जीते

526028
वेमिरेड्डी नरसिम्हा रेड्डी टीआरएस

हारे

500346
गरलापति जितेंद्र कुमार बीजेपी

हारे

52709
मल्लू लक्ष्मी सीपीएम

हारे

25089
मेकाला सतीश रेड्डी जेएसपी

हारे

11288
मारम वेंकट रेड्डी निर्दलीय

हारे

8585
नोटा नोटा

हारे

5560
रोयल्ला श्रीनिवासुलु निर्दलीय

हारे

5376
नकीरिकान्ति चित्तम्मा निर्दलीय

हारे

4965
थांडू उपेंद्र निर्दलीय

हारे

4175
किरण वनपल्ली निर्दलीय

हारे

3366
अकुला पॉल पीपीआई

हारे

3225
जक्कूला नवीन यादव निर्दलीय

हारे

3098
श्रीनु वादत्या निर्दलीय

हारे

2643
मधु सपवथ निर्दलीय

हारे

2517
मेकाला वेंकन्ना निर्दलीय

हारे

2010
करमतोतु मंगता निर्दलीय

हारे

1897
ठगुल्ला जनार्दन निर्दलीय

हारे

1830
कत्रवत वेंकटेश बीएमपी

हारे

1679
लिंगीदी वेंकटेश्वरलु निर्दलीय

हारे

1422
रमेश सुनकारा निर्दलीय

हारे

1235
सोलीपुरम वेणुगोपाल रेड्डी एएनसी

हारे

1124
लितेश सुनकारी एसजेपीआई

हारे

1053
जनैया नंदीपति टीएसपी

हारे

1048
मैरी नेहमैया निर्दलीय

हारे

1046
लालू नाइक रामावत बीआरपी

हारे

1008
पोलीसिट्टी वेंकटेश्वरलु निर्दलीय

हारे

824
बंडारू नागराजू निर्दलीय

हारे

557

नालगौंडा खबरें

नलगोंडा लोकसभा सीट: कांग्रेस और टीआरएस के बीच संघर्ष, सीपीएम करेगी वापसी की कोशिश

नलगोंडा लोकसभा सीट: कांग्रेस और टीआरएस के बीच संघर्ष, सीपीएम करेगी वापसी की कोशिश

नलगोंडा लोकसभा सीट पर पहले चरण की वोटिंग में 66.11 फीसदी मतदान हुआ. अब 23 मई को आने वाले चुनावी रिजल्ट में इन प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला हो जाएगा.

Apr 25, 2019, 06:05 PM IST
6 महीने पहले किया था अंतरजातीय विवाह, गर्भवती पत्नी के सामने दलित युवक का कत्‍ल

6 महीने पहले किया था अंतरजातीय विवाह, गर्भवती पत्नी के सामने दलित युवक का कत्‍ल

ऑनर किलिंग के इस मामले में उनकी पत्‍नी अमृता वर्षिणी (21) ने अपने पिता और चाचा पर आरोप लगाए हैं.

Sep 16, 2018, 11:23 AM IST