CAA पर ट्वीट कर रजनीकांत ने कह दी ऐसी बात, ट्विटर पर ट्रेंड करने लगा #IStandWithRajinikanth

CAA पर ट्वीट कर रजनीकांत ने कह दी ऐसी बात, ट्विटर पर ट्रेंड करने लगा #IStandWithRajinikanth

सौमया ने लिखा कि जो लोग रजनीकांत की स्टेटमेंट का विरोध कर रहे हैं वो जान लें कि उन्होंने इस ट्वीट में न तो नागरिका संशोधन कानून का समर्थन किया और न ही विरोध. उन्होंने एक नागरिक की तरह हिंसा के विरुद्ध अपना विचार रखा है. 

CAA पर ट्वीट कर रजनीकांत ने कह दी ऐसी बात, ट्विटर पर ट्रेंड करने लगा #IStandWithRajinikanth

नई दिल्ली : सुपरस्टार रजनीकांत (Rajinikanth) आज ट्विटर पर नंबर-1 (#IStandWithRajinikanth) पर ट्रेंड कर रहे हैं. दरअसल, उन्होंने  नागरिकता संशोधन कानून को लेकर हो रहे विरोध प्रदर्शन पर प्रतिक्रिया दी है. रजनीकांत ने देश के कई हिस्सों में हो रही हिंसा को लेकर कहा कि दंगा करना किसी भी समस्या का समाधान नहीं है, हालांकि रजनीकांत के इस ट्वीट से ये साफ नहीं है कि CAA के पक्ष में हैं या विरोध में. रजनीकांत ने कहा कि हिंसा से मुझे बहुत पीड़ा होती है. 

रजनीकांत ने ट्वीट किया कि हिंसा और दंगों को किसी मसले के समाधान का जरिया नहीं बनाया जाना चाहिए. मैं भारत के लोगों से यही कहूंगा कि वह एकजुट रहें और भारत की सुरक्षा और हित का पूरा ध्यान रखें. इस तरह उन्होंने जनता को हिंसा से दूर रहने की सलाह दी है.

उनके बयान पर तो जैसे ट्वीट्स की बाढ़ आ गई. यूजर्स उनके ट्वीट को लेकर कंफ्यूज दिखे कि वह CAA के साथ हैं या विरोध में. सारिका राज ने लिखा कि उन्होंने कोई पार्टी बनाई- नहीं, क्या CAB का समर्थन किया- नहीं. क्या किसी से कोई खराब बात की-नहीं. उन्होंने सिर्फ हिंसा और खून बहाने का विरोध किया, जिसका इस्तेमाल हमारे ठग नेता करेंगे.

राम कुलकर्णी ने लिखा कि हम भारतीय रजनी सर के साथ खड़े हैं. जैसा कि हर कोई एक खास समुदाय द्वारा की जा रही हिंसा से चिंतित हैं, ऐसे में उन्होंने अपना विचार रखा कि हिंसा किसी समस्या का हल नहीं है.#IStandWithRajinikanth.

रजनीकांत फैंस के ट्वीटर हैंडल से ट्वीट किया गया कि रजनीकांत ने कहीं भी CAB का समर्थन नहीं किया. उन्होंने ही सबसे पहले श्रीलंकाई तमिलों को लेकर सवाल किया था. उन्होंने सिर्फ इतना कहा है कि हिंसा किसी भी समस्या का समाधान नहीं है.

सौमया ने लिखा कि जो लोग रजनीकांत की स्टेटमेंट का विरोध कर रहे हैं वो जान लें कि उन्होंने न तो CAB का समर्थन किया और न ही विरोध. उन्होंने एक नागरिक की तरह हिंसा के विरुद्ध अपना विचार रखा है. 

नाथन ने लिखा कि छात्रों की जिंदगी से खिलवाड़ न करें, हिंसा को न कहें. आई स्टैंड विद रजनीकांत. एक अन्य यूजर अनिरुद्ध ने लिखा कि यह व्यक्ति लोगों की सुरक्षा के लिए उनके साथ खड़ा हुआ. आई स्टैंड विद रजनीकांत.

वर्क फ्रंट की बात करें तो जल्दी ही रजनीकांत की फिल्म 'दरबार' रिलीज होने वाली है, जिसमें वह एक पुलिसवाले की भूमिका में दिखाई देंगे. इसका ट्रेलर रिलीज हो चुका है. ट्रेलर में दिख रहा है कि रजनीकांत मुंबई पुलिस कमिश्नर हैं और गुंडों में उनका इतना खौफ है कि वे कह रहे हैं कि वह पुलिसवाला नहीं खूनी है. अकेले रजनीकांत की गुंडों की पिटाई करते दिख रहे हैं.  फिल्म में विलेन का किरदार सुनील शेट्टी निभा रहे हैं, सो उन्होंने भी इस रोल में जान डालने में कोई कसर नहीं छोड़ी है. ट्रेलर के अंत में रजनीकांत कहते दिखते हैं- आई एम बैड कॉप. मैं बुरा पुलिसवाला हूं. फिल्म में प्रतीक बब्बर और योगी बाबू भी हैं. 

बॉलीवुड की और खबरें पढ़ें

Trending news