सबसे दर्दनाक लव स्टोरी : आखिरी रात गुरु दत्त ने गीता से कहे थे ये शब्द

गुरु दत्त के आखिरी शब्द गीता दत्त को परेशान कर रहे थे. वह ज्यादा शराब पीने लगीं और लिवर की बीमारी से उनकी भी मौत हो गई.

सबसे दर्दनाक लव स्टोरी : आखिरी रात गुरु दत्त ने गीता से कहे थे ये शब्द

नई दिल्ली : बॉलीवुड को 'प्यासा', 'कागज के फूल', 'साहिब बीवी और गुलाम' जैसी फिल्में देने वाले गुरु दत्त (Guru Dutt) खुद टूटे हुए दिल का शिकार थे. गुरु द्त और गीता दत्त (Geeta Dutt) की लव स्टोरी को बॉलीवुड की जोड़ियों में सबसे दर्दनाक लवस्टोरी माना जाता है. आज गुरु दत्त की पत्नी गीता दत्त (23 नवंबर) का जन्मदिन है. दरअसल, 1951 में बतौर निर्देशक गुरु दत्त अपनी पहली फिल्म 'बाजी' बना रहे थे. उसी फिल्म में एक गाना गीता दत्त ने गाया था. इस फिल्म में काम के दौरान गीता और गुरु की नजदीकियां बढ़ीं और दोनों ने शादी कर ली. दोनों के तीन बच्चे भी हुए. शुरुआत में दोनों का रिश्ता सामान्य था, लेकिन धीरे-धीरे रिश्ते में खटास आने लगी.

बॉलीवुड के जानकारों के मुताबिक- ये शादी लंबी न चल सकी और इसके पीछे सबसे बड़ी वजह दोनों का अहम माना जाता है. दरअसल, गुरु दत्त ने गीता को फिल्मों में गाने से रोक दिया, जिसे लेकर दोनों का रिश्ता लगातार खराब होता चला गया. ऐसा माना जाता है कि गीता अगर लगातार गाती रहतीं तो लता मंगेशकर को भी कड़ी टक्कर दे सकती थीं.  गीता दत्त ज्यादातर समय मायके में गुजारने लगीं. गुरुदत्त गीता और अपने बच्चों से बेइंतहा प्यार करते थे. लेकिन वहीदा रहमान से गुरु दत्त के रिश्तों की खबर ने आग में घी डालने का काम किया. उधर, गुरुदत्त इस वजह से डिप्रेशन में चले गए.

गुरु दत्त ने गीता से अपने रिश्ते सुधारने के लिए एक और कोशिश की थी. उन्होंने गीता के साथ एक फिल्म शुरू की, लेकिन दोनों सेट पर ही लड़ने लगते. हालत ये हो गई कि बीच में ही शूटिंग रोकनी पड़ी. उधर, गुरु दत्त ने खुद को शराब के नशे में डूबो लिया. गुरुदत्त की मौत आज भी एक रहस्य है. कोई उनकी मौत को आत्महत्या बताता है तो कोई सामान्य मौत. 

जानकार बताते हैं कि जिस रात गुरु दत्त मौत की नींद सोए, उस रात उन्होंने जमकर शराब पी थी. उन्होंने गीता को कहा कि बिटिया से मिलने दो, लेकिन गीता ने इंकार कर दिया. वह लगातार गीता को फोन कर रहे थे, लेकिन गीता फोन पर रिस्पांस नहीं दे रही थीं. उन्होंने गीता को यह भी कहा कि बिटिया को भेज दो वरना मेरा मरा हुआ मुंह देखोगी. गुरु दत्त ने उस रात शराब पी और खाना खाकर सो गए. वह फिर नहीं उठे. कुछ लोगों का ये भी कहना है कि उन्होंने नींद की गोलियां खाई, लेकिन गुरु दत्त की मौत पर पक्के तौर पर आज भी कुछ नहीं कहा जा सकता. उनकी मौत को रहस्य ही माना जाता है.

उधर, गुरु दत्त की मौत का गीता को भी सदमा लगा. गुरु दत्त के आखिरी शब्द उन्हें परेशान कर रहे थे. वह ज्यादा शराब पीने लगीं, लिवर की बीमारी से सिर्फ 42 साल की उम्र में गीता दत्त की भी मौत हो गई. गौरतलब है कि गीता दत्त ने बॉलीवुड में 500 से ज्यादा गाने गाए हैं.तदबीर से बिगड़ी हुए तकदीर बना ले... उनका सुपरहिट गाना है.

ये वी़डियो भी देखें :