Video : पुलिस ने रामगोपाल वर्मा को जबरन हैदराबाद भेजा, विजयवाड़ा में प्रवेश पर लगी रोक
Advertisement

Video : पुलिस ने रामगोपाल वर्मा को जबरन हैदराबाद भेजा, विजयवाड़ा में प्रवेश पर लगी रोक

रामगोपाल वर्मा ने ट्वीट करते हुए लिखा कि आपको सूचित करते हुए दुख हो रहा है कि शाम को चार बजे होने वाली पत्रकार वार्ता को रद्द कर दिया गया है क्योंकि पुलिस ने हमें रोक लिया है और पुलिस ने विजयवाड़ा में मेरे प्रवेश पर रोक लगा दी है. 

(फोटो साभार- @RGVzoomin)

नई दिल्ली : फिल्मकार रामगोपाल वर्मा को तेलुगु फिल्म ‘लक्ष्मीज एनटीआर’ का प्रचार करने के लिए विजयवाड़ा में प्रवेश करने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है. वर्मा को शहर की पुलिस ने हिरासत में लेकर बिना कारण बताए हैदराबाद भेज दिया है.

रामगोपाल वर्मा ने ट्वीट करते हुए लिखा कि आपको सूचित करते हुए दुख हो रहा है कि शाम को चार बजे होने वाली पत्रकार वार्ता को रद्द कर दिया गया है क्योंकि पुलिस ने हमें रोक लिया है और पुलिस ने विजयवाड़ा में मेरे प्रवेश पर रोक लगा दी है तथा मुझे जबरन हैदराबाद भेज दिया है. उन्होंने बाद में पूछा, 'लोकतंत्र कहां हैं? सच को क्यों दबाया जा रहा है.'

‘लक्ष्मीज एनटीआर’ तेलुगु देशम पार्टी के संस्थापक और पूर्व मुख्यमंत्री एनटी रामा राव के जीवन पर आधारित है. फिल्म में उन घटनाओं का एक चित्रण है जिसमें अगस्त 1995 में एनटीआर के दामाद चंद्रबाबू नायडू ने पार्टी के अंदर विद्रोह किया था जिसके बाद एनटीआर को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ा था. 

निर्देशन के बाद अभिनय करने उतरे राम गोपाल वर्मा, देखें फिल्म 'कोबरा' का FIRST LOOK 

11 अप्रैल को हुए आम चुनाव के मद्देनजर चुनाव आयोग और उच्च न्यायालय से मंजूरी के बाद फिल्म एक मई को आंध्र प्रदेश में रिलीज होनी है. वर्मा ने फिल्म के निर्देशक राकेश रेड्डी तथा अन्य के साथ फिल्म का प्रचार करने के लिए विजयवाड़ा में शाम चार प्रेस वार्ता रखी थी.

बॉलीवुड की और खबरें पढ़ें

Trending news