जब लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल ने कर दिया था SP Balasubramaniam को रिजेक्ट...

एसपी की हिंदी फिल्मों में एंट्री 1981 में आई फिल्म 'एक-दूजे के लिए' से हुई थी. इससे पहले वे साउथ में अपनी आवाज का लोहा मनवा चुके थे. साउथ के सुपर स्टार कमल हासन (Kamal Haasan) को उनकी आवाज बेहद सूट करती थी. 

जब लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल ने कर दिया था SP Balasubramaniam को रिजेक्ट...
(फाइल फोटो)

नई दिल्ली: एसपी बालसुब्रमण्यम (SP Balasubramaniam) का नाम जितना भारीभरकम था, वे खुद इसके विपरीत एकदम जौली और हंसमुख व्यक्ति थे. वे अपने ऊपर खूब हंसा करते. यही वजह थी कि वे जितने अच्छे गायक थे, उतने ही अच्छे कलाकार भी थे.

एसपी की हिंदी फिल्मों में एंट्री 1981 में आई फिल्म 'एक-दूजे के लिए' से हुई थी. इससे पहले वे साउथ में अपनी आवाज का लोहा मनवा चुके थे. साउथ के सुपर स्टार कमल हासन (Kamal Haasan) को उनकी आवाज बेहद सूट करती थी. इसलिए जब निर्देशक बाल चंदर ने कमल हासन को 'एक-दूजे के लिए' साइन किया तो एसपी से कहा कि इस फिल्म में हीरो के लिए सभी गाने वे ही गाएंगे.

लक्ष्मीकांत प्यारेलाल खुश नहीं थे
'एक-दूजे के लिए' के संगीतकार थे उस समय के फेमस लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल. लक्ष्मीकांत ने सोच रखा था कि कमल हासन के प्लेबैक किशोर कुमार (Kishor Kumar) के बेटे अमित कुमार (Amit Kumar) देंगे. अमित उन दिनों लव स्टोरी के गाने गा कर फेमस हो चुके थे. पर बालचंदर ने कहा कि एक बार उन्हें एसपी के गाने सुन लेने चाहिए.

ये भी पढ़ें- मशहूर सिंगर SP Balasubramaniam का कोरोना से निधन

लक्ष्मीकांत यह देख कर चौंक गए कि एसपी ठीक से हिंदी भी नहीं बोल पा रहे थे. उन्होंने जब एसपी को अंग्रेजी में गाना लिख कर दिया और गाने को कहा तो यह पाया कि एसपी का हिंदी उच्चारण एकदम खराब है. लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल ने उसी वक्त चैन्नई बालचंदर को फोन करके कहा कि वे उनका गायक रिजेक्ट कर रहे हैं.

एसपी सदमे में आ गए
एसपी बालसुब्रण्यम को इससे पहले किसी ने रिजेक्ट नहीं किया था. वे तमिल, तेलुगू और कन्नड़ फिल्मों में खूब गाते थे. उन्होंने रोमांटिक ही नहीं, शास्त्रीय गाने भी गाए थे. इस रिजेक्शन ने उनका दिल तोड़ दिया. वे वापस चैन्नई आ गए. लेकिन फिल्म के हीरो कमल हासन और बालचंदर ने कहा कि उन्हें इस तरह मायूस नहीं होना चाहिए. गाने से पहले अगर वे शब्दों का मतलब समझ लेंगे तो उन्हें गाने में आसानी होगी. बालचंदर ने उन्हें गाने का मतलब समझाया. इसके बाद जब वे मुंबई रेकॉर्डिंग के लिए गए, तो उनकी आवाज का रेंज देख कर लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल चौंक गए. 

SPB, जिनके लिए कहा गया....'मद्रासी' गायक हमारी फिल्म में नहीं गाएगा!

बालचंदर ने लक्ष्मीकांत को समझाया कि फिल्म का हीरो साउथ से है, हिंदी तमिल एक्सेंट में बोलता है, तो गाना भी तो वैसे ही गाएगा.

हिट हो गए गाने
'एक-दूजे के लिए' के सभी गाने खूब हिट हुए. इस फिल्म के लिए एसपी को बेस्ट गायक का नेशनल अवॉर्ड भी मिला. इसके कई सालों बाद वे हिंदी में सलमान खान के लिए गाने लगे. सलमान आज भी उन्हें बड़े प्यार से अपने किरदार प्रेम की आवाज कह कर याद करते हैं.