अपनी आंखों को नजरअंदाज करने की न करें भूल, इन छोटी पर काम की बातों का जरूर रखें ध्यान

आजकल बढ़ते प्रदूषण के कारण भी आंखों में धूल-कण, जहरीले धुंआ से जलन, चुभन और आंखों से पानी आने की समस्या लोगों में बढ़ रही है. करें ये उपाय.

ज़ी न्यूज़ डेस्क | Aug 26, 2020, 08:57 AM IST

नई दिल्ली: इस दौर में जवान हो या बच्चे सभी फोन का इस्तमाल काफी करते हैं. जो उनकी सेहत के लिए काफी नुकसानदेय है. खासकर उनकी आंखों के लिए. दिन-रात फोन, कंप्यूटर, टीवी के इस्तेमाल से आंखों पर नकारात्मक (Eye Health) असर होता है. आजकल बढ़ते प्रदूषण के कारण भी आंखों में धूल-कण, जहरीले धुंआ से जलन, चुभन और आंखों से पानी आने की समस्या लोगों में बढ़ रही है. इसलिए इसकी देखभाल करना काफी जरूरी है. आंखें कमजोर (Eye Health) न हों, इसके लिए कुछ बातों को ध्यान में रखें.

1/4

खानपान हो बेहतर

good diet for healthy eyes

डाइट में उन चिजों को शामिल करें, जिसका सीधा असर आपकी आंखें की सेहत पर हो. खाने में जितना हो सके पोषक तत्व और प्रोटीन शामिल करें. हरी पत्तेदार सब्जियां जैसे पालक, मछली, फल आदि शामिल करें. इन्हें खाने से आंखों में ड्राईआई सिंड्रोम की समस्‍या नहीं होती है.

2/4

चेकअप है जरूरी

regular checkup is necessary for eyes

आंखों में जलन, चुभन है या फिर कंप्यूटर पर काम करने से आंखों से पानी आए, तो आंखों की जांच करवाएं.

3/4

पलकें झपकाएं

blinking eyelashes

यदि आप कंप्यूटर पर देर तक काम करते हैं, तो प्रत्येक सेकंड कम से कम तीन से चार बार अपनी पलकों को बीच-बीच में झपकाते रहें. इससे आंखें तरोताजा और तनाव मुक्त रहती हैं.

4/4

आखों का करें व्यायाम

do regular eye exercise

आंखों की रोशनी और सेहत को अच्छा बनाए रखने के लिए व्यायाम करें. दोनों हथेलियों को आपस में रगड़ें. जब हथेलियां गर्म हो जाएं, तो उन्‍हे हल्‍के से आंखों पर रखें. इससे आंखों का तनाव दूर होगा. बाहर से आने पर आंखों में पानी की छींटे जरूर मारें. इससे धूल-कण निकल जाएंगे और आंखों को कोई नुकसान नहीं होगा.