आखिर खाना खाते ही क्यों आती है नींद? जानिए खाने के बाद सोना गलत है या सही
topStories1hindi1463074

आखिर खाना खाते ही क्यों आती है नींद? जानिए खाने के बाद सोना गलत है या सही

Feel Sleepy After Eating Food: आपने अक्सर नोटिस किया होगा कि खाना खाते ही सुस्ती महसूस होती है और नींद आती है. ऐसा अक्सर दिन के खाने के बाद होता है. लेकिन इसके पीछे क्या कारण वो आज हम इस आर्टिकल में जानेंगे. 

 

आखिर खाना खाते ही क्यों आती है नींद? जानिए खाने के बाद सोना गलत है या सही

Feel Sleepy After Eating Food: जब भी हम दिन में खाना खाते हैं, तो उसके बाद नींद आने लगती है और हमें आराम से सोने की तलब मचती है. घर में रहने वाले लोगों के लिए ये समस्या नहीं है, क्योंकि दिन के खाने के बाद वो थोड़ी देर चाहें तो आराम कर सकते हैं. लेकिन ऑफिस में काम करने वाले लोगों के लिए ये एक बड़ी समस्या होती है. अधिकतर लोगों को लंच करते ही सुस्ती महसूस होती है और नींद आती है. ये नींद ज्यादा देर का समय नहीं मांगती. ऐसा लगता है, मानो 15 मिनट की नींद पूरी हो जाए तो बॉडी फ्रेश हो फील करेगी. दरअसल, इसके पीछे न्यूट्रीशनिस्ट एक्सपर्ट और वैज्ञानिक डॉक्टर ने जो वजह बताई है, वो हम आपको इस आर्टिकल में बताएंगे. 

हमारे शरीर को काम करने के लिए ऊर्जा की जरूरत होती है. जिसके लिए खाना खाते हैं और कई तरह के पोषक तत्व लेते हैं. डॉक्टर्स बताते हैं कि जब हम खाना खाते हैं, तो हमारी आंत और पूरा शरीर खाने को पचाने के लिए काम करना शुरू कर देता है. इससे ब्लड शुगर लेवल कम होने लगता है. जिसकी वजह से हम सुस्ती महसूस करते हैं और नींद आती है. साथ ही जब कोई व्यक्ति ज्यादा शुगर वाला खाना खाता है, तो शुगर ब्लड में अचानक से बढ़ता है फिर तेजी से कम हो जाता है. इसकी वजह से व्यक्ति को थकान महसूस होती है और फिर नींद की झपकी आने लगती है. हालांकि, खाने के बाद आप थोड़ी देर का रेस्ट ले सकते हैं. आइये जानें खाने के बाद नींद आने की असली वजह...

हार्मोन की वजह से भी आती है नींद
ऐसा जरूरी नहीं है कि सिर्फ ब्लड शुगर लेवल कम होने की वजह से ही नींद आए. कई बार शरीर के हार्मोन भी नींद आने का कारण होते हैं. दरअसल, खाना खाने के बाद कभी-कभी सेरोटोनिन तेजी से बनने लगता है, जिससे व्यक्ति का सोने का मन करता है. 

भोजन पर निर्भर है नींद
कुछ डॉक्टर्स बताते हैं कि अगर व्यक्ति ट्रिप्टोफैन नाम के एमिनो एसिड से भरपूर भोजन करता है, तो इससे नींद आ सकती है. ऐसा इसलिए क्योंकि ये सेरोटोनिन के उत्पादन में शामिल होता है. ट्रिप्टोफैन कई प्रोटीन युक्त खाद्य पदार्थों में पाया जाता है जैसे पनीर, अंडा आदि.

खाने के बाद नींद और सुस्ती को भगाने का उपाय 
ऑफिस में वर्किंग लोगों के लिए खाने बाद नींद आना थोड़ी दिक्कत पैदा कर देता है. ऑफिस में काम करने वाले लोगों को खाना खाने के बाद नींद ना आए, इसके लिए आप खाने में हाई फाइबर फूड को शामिल करें. इससे ब्लड शुगर लेवल मेंटेन रहता है और सुस्ती महसूस नहीं होती है. साथ ही हल्का भोजन करें. दिन में जरूरत से ज्यादा भोजन ना करें. अगर आप ज्यादा भोजन खाते हैं, तो इससे डाइजेस्टिव सिस्टम में ओवरलोड हो जाता है जिससे फिर सुस्ती के साथ नींद भी आती है. 

Disclaimer: इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है. हालांकि इसकी नैतिक जिम्मेदारी ज़ी न्यूज़ हिन्दी की नहीं है. हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें. हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है. 

Trending news