हरियाणा के मंत्री अनिल विज ने कहा, 'हिंदू कभी आतंकवादी नहीं हो सकता'

हरियाणा के मंत्री अनिल विज ने कहा, 'हिंदू कभी आतंकवादी नहीं हो सकता'
विज ने कहा हिन्दू आतंकवाद जैसी कोई अवधारणा नहीं हो सकती है. (file)

चंडीगढ़. हरियाणा के सीनियर मंत्री अनिल विज का कहना है कि हिन्दू कभी आतंकवादी नहीं हो सकता है ऐसे में 'हिन्दू आतंकवाद' जैसी कोई अवधारणा नहीं हो सकती है. इस दलील के साथ उन्होंने खारिज कर दिया कि 2007 समझौता एक्सप्रेस विस्फोट दक्षिणपंथी झुकाव वाले समूहों का काम था. प्रदेश के हेल्थ मिनिस्टर ने आरोप लगाया कि यूपीए सरकार ने 'हिन्दू आतंक है' यह दिखाने के लिए विस्फोट कांड में 'राजनीतिक षड्यंत्र' गढ़ा. 

विज ने कहा हिंदू आतंकवाद जैसी कोई अवधारणा नहीं हो सकती है

मीडिया में इस तरह की खबरें आने के बाद कि विस्फोट कांड में मुख्य संदिग्ध पाकिस्तानी थे और यूपीए सरकार के दौरान उन्हें देश छोड़कर बाहर जाने दिया गया. इसी पर विज ने कहा, 'एक हिन्दू कभी आतंकवादी नहीं हो सकता है इसलिए हिन्दू आतंकवाद जैसी कोई अवधारणा नहीं हो सकती है.'

यूपीए सरकार पर साधा निशाना

विज ने कहा, 'यह बहुत गंभीर मसला है कि गिरफ्तार किए गए पाकिस्तानियों को छोड़ दिया गया. इस देश के लोगों को गिरफ्तार किया गया और उन्हें हिन्दू आतंकवादी करार दे दिया गया. यह यूपीए सरकार का खेल है. वे पाकिस्तानी जरूर तत्कालीन सरकार के ईशारों पर छोड़े गए होंगे. 

 

जिन्हें छोड़ा गया वे पाकिस्तान में मौज कर रहे हैं : विज 

उन्होंने कहा, 'अब, जिन्हें रिहा किया गया है वे पाकिस्तान में मौज कर रहे हैं. जांच चल रही है, लेकिन वे समन का जवाब नहीं दे रहे हैं।' बता दें इस साल मार्च में स्पेशल एनआईए कोर्ट ने 13 पाकिस्तानी गवाहों को उसके सामने पेश होने के लिए समन जारी किया था। बता दें हरियाणा के पानीपत में 18 फरवरी, 2007 को भारत-पाकिस्तान समझौता एक्सप्रेस के दो डिब्बों में हुए विस्फोटों में 68 लोग मारे गए थे.

कांग्रेस पर निशाना

कांग्रेस पर निशाना साधते हुए विज ने कहा, 'उनकी मंशा सिर्फ यह राजनीतिक षड्यंत्र स्थापित करने की थी कि भारत में हिन्दू आतंकवाद मौजूद है, जबकि वास्तविकता यह है कि कोई हिन्दू आतंकवादी हो ही नहीं सकता। हिन्दू आतंकवाद जैसी कोई अवधारणा संभव ही नहीं है.'