• 542/542 लक्ष्य 272
  • बीजेपी+

    354बीजेपी+

  • कांग्रेस+

    89कांग्रेस+

  • अन्य

    99अन्य

'अगर हमने जंगल में बम गिराए होते तो पाक PM बयान क्‍यों देते?' एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ

एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ ने कहा है कि हमारा काम आतंकी ठिकानों को तबाह करने का है, आतंकियों के शव गिनने का नहीं.

'अगर हमने जंगल में बम गिराए होते तो पाक PM बयान क्‍यों देते?' एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ
एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ

कोएंबटूर: कई विपक्षी दलों द्वारा भारत की एयर स्‍ट्राइक पर उठाए जा रहे सवालों के मद्देनजर एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ ने कहा है कि हमारा काम आतंकी ठिकानों को तबाह करने का है, आतंकियों के शव गिनने का नहीं. इसके साथ ही उन्‍होंने कहा कि यदि सीमापार कोई क्षति नहीं हुई तो पाकिस्‍तान ने प्रतिक्रिया क्‍यों दी? यदि हमने जंगल में बम गिराए होते तो पाकिस्‍तानी प्रधानमंत्री उस पर प्रतिक्रिया क्‍यों देते?

यानी बीएस धनोआ के इस बयान का मतलब है कि भारतीय वायुसेना के एयर स्‍ट्राइक में पाकिस्‍तानी सीमा के भीतर जान-माल का बड़ा नुकसान हुआ है. इसलिए ही पाकिस्‍तान ने इस पर प्रतिक्रिया भी दी और उनके एफ-16 विमानों ने भारतीय सीमा में घुसने की कोशिश भी की. इसी कड़ी में उनका एक विमान भी भारतीय वायुसेना ने मार गिराया. बीएस धनोआ ने यह भी कहा कि विदेश सचिव अपने बयान में आतंकी ठिकानों पर हमले के बारे में पहले ही बयान दे चुके हैं. हमारा काम तय किए लक्ष्‍य को हिट करना है. हमने अपने टारगेट को हिट किया. एयर स्‍ट्राइक में कितने लोग मारे गए, ये बताने का काम सरकार का है.

मोदी सरकार ने एयर स्‍ट्राइक का फैसला लिया, 250 से ज्‍यादा आतंकियों को मार गिराया: अमित शाह

मिग 21 बाइसन बेहतर विमान
पीओके में जैश के खिलाफ एयर स्‍ट्राइक में इस्‍तेमाल किए गए लड़ाकू विमान मिग 21 बाइसन को वायुसेना प्रमुख बीएस धनोआ ने बेहतर विमान बताया. उन्‍होंने कहा कि य‍ह लड़ाकू विमान पूर्ण रूप से सक्षम है. इसे अपग्रेड किया गया है. इसमें बेहतर राडार लगा है. साथ ही यह हवा से हवा में मार करने वाली मिसाइल दागने में भी सक्षम है. इसमें बेहतर हथियार प्रणाली है.

इसके साथ ही वायुसेना प्रमुख धनोआ ने कहा कि पाकिस्तान के एफ 16 लड़ाकू विमान का मुकाबला करने के लिए इस्तेमाल किया गया मिग 21 आधुनिक हथियार प्रणाली वाला उन्नत विमान था. मिग 21 बाइसन के इस्तेमाल पर वायुसेना प्रमुख ने कहा कि जब शत्रु हमला करता है तो जवाब देने के लिए हर मौजूद विमान का इस्तेमाल किया जाता है.

अगर विंग कमांडर अभिनंदन स्वस्थ होंगे तो लड़ाकू विमान उड़ाएंगे
विंग कमांडर अभिनंदन को हर आवश्यक चिकित्सा मुहैया कराई जाएगी. हम पायलट के स्वास्थ्य को लेकर कोई समझौता नहीं कर सकते, अगर अभिनंदन स्वस्थ होंगे तो लड़ाकू विमान उड़ाएंगे. वायुसेना प्रमुख धनोआ ने कहा कि वह राजनीति पर कोई टिप्पणी नहीं कर सकते, अभिनंदन की वापसी से खुश हैं. वायुसेना प्रमुख धनोआ ने कहा कि राफेल लड़ाकू विमान को सितंबर तक भारत के शस्त्र भंडार में आ जाना चाहिए. इसके साथ ही उन्‍होंने कहा कि वायुसेना को बेंगलुरु में एअर शो के दौरान हवा में हुई दुर्घटना और कश्मीर में हेलीकॉप्टर दुर्घटना के कारणों का पता लगाना है.