close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की सभा पर मंडरा रहा 'कड़कनाथ' का साया, अलर्ट घोषित

आज सांगली जिले में मुख्यमंत्री की महाजनादेश यात्रा है.

मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की सभा पर मंडरा रहा 'कड़कनाथ' का साया, अलर्ट घोषित
इस्लामपुर में मुख्यमंत्री की महा जनादेश यात्रा का स्वागत करती लोगों की भीड़.

मुंबई: मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) की महाराष्ट्र के सांगली जिले में होने वाली सभा में काले रंग के कड़कनाथ मुर्गे छोड़कर विरोध प्रदर्शन करने की सूचना पर अलर्ट घोषित किया गया है. पुलिस मुर्गों के बंदोबस्त में जुट गई है. वहीं, पशु वैधकीय अधिकारी को भी लिखा पत्र लिखा गया है.

दरअसल, आज सांगली जिले में मुख्यमंत्री की महाजनादेश यात्रा है. इससे पहले वहां कड़कनाथ मुर्गों के नाम पर किसानों से ठगी का मामला गरमाया है. अब पुलिस को अलर्ट मिला है कि मुख्यमंत्री की सभा में स्वाभिमानी शेतकरी संगठन के कार्यकर्ता कड़कनाथ मुर्गा उड़ाकर विरोध प्रदर्शन कर सकते हैं.

कड़कनाथ को लेकर घोटाला
महाराष्ट्र के सांगली, सातारा, कोल्हापुर, नासिक जैसे इलाकों में मुर्गे कड़कनाथ को लेकर घोटाला होने का मामला सामने आया है.


कड़कनाथ मुर्गा

दरअसल महारयत एग्रो इंडिया प्राइवेट लिमिटेड नाम की कंपनी की तरफ से इलाके के किसानों को छोटे-छोटे कड़कनाथ मुर्गे और कुछ पैसे दिए गए और कहा कि अगर इन्हें बड़ा करके जब कंपनी को वापस करोगो कि इनकी पूरी रकम दी जाएगी. इतना ही नहीं, कंपनी की तरफ से किसानों को कड़कनाथ को दी जाने वाली दवाएं भी दी गईं.

कंपनी मुर्गों को लकर फरार हो गई
किसानों की मानें तो तीन महीने के बाद जब बड़े कड़कनाथ मुर्गों को कंपनी को सौंपा गया तो उन्हें रुपए नहीं दिए गए और कंपनी मुर्गों को लकर फरार हो गई. फिलहाल नासिस इलाके के 42 किसानों ने ही कंपनी के खिलाफ सरकारवाड़ा इलाके में मामला दर्ज कराया है. किसानों का अनुमान है कि कंपनी ने बड़ी संख्या में किसानों से करोड़ों रुपए के कड़कनाथ इक्कठे किए और फिर फरार हो गई.