EXCLUSIVE- सुशांत इतना कमजोर नहीं था कि आत्‍महत्‍या कर ले: अंकिता लोखंडे

सुशांत सिंह सुसाइड केस में उनकी दोस्‍त अंकिता लोखंडे ने ZEE NEWS के एडिटर-इन-चीफ सुधीर चौधरी से कहा कि उनकी मौत के बाद से मैं और पूरा परिवार सदमे में है.

EXCLUSIVE- सुशांत इतना कमजोर नहीं था कि आत्‍महत्‍या कर ले: अंकिता लोखंडे
Play

नई दिल्‍ली: सुशांत सिंह सुसाइड केस में उनकी दोस्‍त अंकिता लोखंडे ने ZEE NEWS के एडिटर-इन-चीफ सुधीर चौधरी से कहा कि उनकी मौत के बाद से मैं और पूरा परिवार सदमे में है. किसी पर आरोप नहीं लगाना चाहती, सच जानना चाहती हूं कि आखिर ऐसा क्‍या हुआ? सुशांत सिंह जिंदादिल था, कभी मायूस नहीं होता था. यह कहना सही नहीं है कि फिल्‍म इंडस्‍ट्री में नेपोटिज्‍म, परिवारवाद की वजह से हताशा में उन्‍होंने सुसाइड कर ली.  

इसके साथ ही उन्‍होंने कहा कि वह करियर को लेकर संजीदा था लेकिन पेशे में नाकामी के डर से आत्‍महत्‍या नहीं कर सकता था. इसको इस तरह से समझा जा सकता है कि हम दोनों का पहला सीरियल 'पवित्र रिश्‍ता' जब चल रहा था तो उसने बीच में उसको छोड़ने का फैसला किया. उसके बाद उसने तीन साल तक अपनी पहली फिल्‍म के लिए इंतजार किया और उसके बाद उसको 'काई पो छे' फिल्‍म मिली. कहने का मतलब ये है कि वह संघर्ष से हारने वाला इंसान नहीं था. वह तो यहां तक कहता था कि यदि उसको कामयाबी नहीं मिलेगी तो वह खेती कर लेगा. छोटी फिल्‍में कर लेगा. इसलिए वह दूसरों को प्रेरणा देने वाला हंसमुख, कामयाब, समझदार इंसान था. उसके आत्‍महत्‍या करने की बात किसी भी तरह गले नहीं उतरती.

इसके साथ ही अंकिता ने कहा कि ये सही है कि हाल के वर्षों में वह सुशांत के साथ नहीं थीं लेकिन उन्‍होंने महसूस किया कि वह पिछले एक साल से मीडिया समेत हर जगह कम दिखने लगे थे. अचानक से अकेले से हो गए थे. उदास लगने लगे थे. 

'अपवित्र' रिश्‍ता
सुशांत की मौत के बाद उनके पिता द्वारा रिया के खिलाफ की गई एफआईआर और पैसों का मामला सामने आने पर उन्‍होंने कहा कि वह इस बारे में इसलिए कुछ नहीं कहना चाहतीं क्‍योंकि जांच चल रही है. लेकिन ये भी सच है कि सुशांत की आत्‍महत्‍या की बात बेहद हैरान करने वाली है. लेकिन इस बात की जांच होनी चाहिए कि हालिया दौर में उनके साथ कौन लोग थे और उनकी जिंदगी में क्‍या घटित हुआ? आखिर वो कौन सी दशाएं थीं जिनके कारण वह डिप्रेशन के शिकार हुए. ऐसा इसलिए क्‍योंकि वह एक कामयाब इंसान थे. उन्‍होंने अपनी मेहनत, हुनर और समझ से अपना मुकाम बनाया था. ये भी सही है कि वह संवेदनशील और भावुक इंसान थे. लेकिन ये भी देखा जाना चाहिए कि उनके आस-पास पिछले एक-डेढ़ साल में वे कौन से लोग थे जिनके कारण वह अपनों से दूर गए. मीडिया में इस तरह की खबरें आई हैं कि वह अपने परिवार से कट से गए थे. उनकी अपने पिता और बहनों से बहुत कम बात होने लगी थी. इन सारी बातों की जांच होनी चाहिए. 

LIVE TV