close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

गोपालगंज में अब भूखा नहीं सोएगा कोई भी जरूरतमंद, युवाओं ने शुरू किया 'रोटी बैंक'

इस बैंक के जरिए कोई भी व्यक्ति अब भूखे पेट नहीं सोएगा. इसी उम्मीद के साथ गोपालगंज के युवाओ की टोली ने इस बैंक को शुरू किया है. 

गोपालगंज में अब भूखा नहीं सोएगा कोई भी जरूरतमंद, युवाओं ने शुरू किया 'रोटी बैंक'
बैंक के जरिए कोई भी व्यक्ति अब भूखे पेट नहीं सोएगा.

गोपालगंज: बिहार के गोपालगंज में अब कोई भी जरूरतमंद व्यक्ति भूखा नहीं सोएगा. गोपालगंज में अब रोटी बैंक की शुरुआत की गई है. इस बैंक के जरिए कोई भी व्यक्ति अब भूखे पेट नहीं सोएगा. इसी उम्मीद के साथ गोपालगंज के युवाओं की टोली ने इस बैंक को शुरू किया है. 

मौलाना मजहरुल हक चैरिटी संस्था के द्वारा इस रोटी बैंक की शुरुआत की गई है. सिविल सर्जन अशोक कुमार चौधरी ने इस बैंक का उद्घाटन किया. इसे गोपालगंज के अंबेडकर चौक पर खोला गया है.

चैरिटी के सदस्य और सामाजिक कार्यकर्ता शाह आलम ने बताया कि इस रोटी बैंक का उद्देश्य वैसे जरूरतमंद लोगों को मदद पहुंचाना है जो भूखे पेट सोने को मजबूर है. जिनकी पास कमाने का कोई जरिया नहीं है और उन्हें इधर-उधर से मांग कर पेट भरना पड़ता है. 

ऐसे लोग शहर के अंबेदकर चौक स्थित इस संस्था में आएंगे. यहां उन्हें भर पेट भोजन कराया जाएगा और इसके बदले में पैसे नहीं लिए जाएंगे. शाह आलम ने बताया कि शुरुआत में यह रोटी बैंक साप्ताहिक यानी प्रत्येक गुरुवार को खुलेगा.
 
जैसे-जैसे जरूरतमंद लोगों की संख्या बढ़ेगी. इस बैंक को प्रतिदिन खोल कर भूखे को भोजन कराया जाएगा. उद्घाटन के मौके पर सीएस अशोक कुमार चौधरी ने कहा कि यह बहुत ही अच्छा और नेक काम है. इसे युवाओं ने बिना किसी मदद के खुद खोला है.