बिहार में राशन घोटाले का भंडाफोड़, एक नंबर प्लेट पर कई ट्रक कर रहे थे 'हेराफेरी'

Bettiah News: इस घोटाले का खुलासा उस वक्त हुआ जब चनपटिया कृषि बाजार समिति के सीएमआर गोदाम में अनाज लोडिंग-अनलोडिंग करने आए एक ही रजिस्ट्रेशन संख्या के दो ट्रक को थानाध्यक्ष मनीष कुमार एवं बीडीओ दीनबन्धु दिवाकर ने संयुक्त रूप से छापेमारी कर जब्त किया.

बिहार में राशन घोटाले का भंडाफोड़, एक नंबर प्लेट पर कई ट्रक कर रहे थे 'हेराफेरी'
बेतिया में राशन घोटाले का भंडाफोड़,ट्रक से हो रहा था खेल.(प्रतीकात्मक तस्वीर)

Bettiah: बिहार के बेतिया जिले में बड़ा राशन घोटाला का खुलासा हुआ है. जानकारी  के अनुसार, एक ही नम्बर की दो ट्रक का इस्तेमाल करके हेराफेरी किया जा रहा था. सीएमआर (CMR) गोदाम में एक ही नंबर के दो ट्रकों से गोदाम से चावल की लोडिंग व अनलोडिंग के लिए उपयोग किया जा रहा था. लेकिन मामले का खुलासा तब हुआ जब लोडिंग व अनलोडिंग के लिए जिस ट्रक के नम्बर का इस्तेमाल किया जा रहा था उस ट्रक के मालिक ने अपने ट्रक के इस्तेमाल से साफ मना कर दिया. उनका कहना है कि मेरे ट्रक का  इस्तेमाल चावल की लोडिंग व अनलोडिंग के लिए नहीं हुआ है. इधर, हेराफेरी के इरादे से ट्रक के आगे दो-दो नबंर प्लेट लगा हैं तो ट्रक के पिछे कोई और नबंर प्लेट लगा कर चावल की हेराफेरी की जा रही हैं.

वहीं, सीएमआर (CMR) गोदाम में वर्षो से चला आ रहा हेराफेरी का खुलासा उस वक्त हुआ जब चनपटिया कृषि बाजार समिति के सीएमआर गोदाम में अनाज लोडिंग-अनलोडिंग करने आए एक ही रजिस्ट्रेशन संख्या के दो ट्रक को थानाध्यक्ष मनीष कुमार एवं बीडीओ दीनबन्धु दिवाकर ने संयुक्त रूप से छापेमारी कर जब्त किया. यहां, जब्त एक ट्रक के आगे व पीछे UP42AT2561 रजिस्ट्रेशन संख्या अंकित है तो दूसरे ट्रक पर आगे UP42AT2561 तो वहीं, पीछे BR06G9441 रजिस्ट्रेशन संख्या अंकित है. इधर, पुलिस ने मामले की जांच के बाद दोनों ट्रक को अपने कब्जे में लेकर आगे की कारवाई कर रही है. बता दें कि पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी कि चनपटिया कृषि बाजर समिति के सीएमआर गोदाम में एक ट्रक से अनाज उतार जा रहा है जबकि एक खाली ट्रक खड़ा है. इतना ही नहीं दोनों ट्रक पर एक ही रजिस्ट्रेशन संख्या अंकित है.

ये भी पढ़ें-मोतिहारी में दबंगई का 'नंगा नाच', दवा विक्रेता को सरेआम मारी गोली, CCTV में कैद हुई वारदात

इधर, जानकारी मिलने के बाद पर पहुंची पुलिस ने ट्रक के चालक अफरोज आलम से पूछताछ किया. वहीं, अफरोज ने बताया कि मैंने ट्रक संख्या UP42AT2561 से बेतिया मीना बाजार स्थित एक व्यवसायी का चीनी उतारकर चनपटिया स्थित सीएमआर गोदाम से अनाज लोडिंग करने आया था. उसने आगे बताया कि मेरे ट्रक संख्या UP42AT2561 से चनपटिया सीएमआर गोदाम में अनाज नहीं उतारा गया है. लेकिन एजीएम (AGM) सिकंदर आलम का कहना था कि ट्रक संख्या UP42AT2561 से सीएमआर (CMR) गोदाम में अनाज उतारा गया है.

वहीं, पूछताछ के बाद थानाध्यक्ष मनीष कुमार ने तुरंत स्थानीय बीडीओ (BDO) दीनबन्धु दिवाकर को मामले की जानकारी से अवगत कराया. BDO ने आनन-फानन में सीएमआर गोदाम पहुंचकर एजीएम सिकंदर आलम से बात कर मामले में जानकारी ली. साथ ही, अनाज से संबंधित कागजात को कार्रवाई के लिए जब्त कर लिया. इस संबंध में बेतिया एसपी उपेन्द्रनाथ वर्मा ने बताया कि दोनों ट्रक को कब्जे में लेकर जांच की जा रही है. उन्होंने कहा कि मामले में जो भी दोषी होंगे उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.

(इनपुट-इमरान)