'जल' ने जाम की जिंदगी ! जमशेदपुर में बाढ़ का खतरा मंडराया, चांडिल डैम से छोड़ा गया पानी

जमशेदपुर में लगातार बारिश के बाद चांडिल डैम से पानी छोड़ा गया, जिससे शहर में बाढ़ का खतरा मंडराने लगा है. 

'जल' ने जाम की जिंदगी ! जमशेदपुर में बाढ़ का खतरा मंडराया, चांडिल डैम से छोड़ा गया पानी
जमशेदपुर में बाढ़ का खतरा मंडराया.

Jamshedpur: झारखंड में 2-3 दिन से लगातार हो रही बारिश के कारण जनजीवन बुरी तरीके से प्रभावित हुआ है. जिसकी वजह से जहां सड़कें पानी में डूब गयी हैं. वहीं घरों में भी पानी घुसने से लोगों की परेशानी बढ़ गयी है. जमशेदपुर में तो बाढ़ का खतरा मंडराना शुरू हो गया है.

लगातार रुक-रुक कर हो रही बारिश के कारण जमशेदपुर शहर की दोनों नदियां स्वर्णरेखा और खरकाई नदी डेंजर जोन को पार कर उफान पर है. ऐसे में अचानक चांडिल डैम के 7 फाटक खोल दिए गए हैं. अचानक डैम के फाटक खोलने से नदी का जलस्तर बढ़ गया है, और नदी किनारे बसे कई खटालों के जानवर बह गए हैं, जिससे लाखों का नुकसान हुआ है.

ये भी पढ़ें: लातेहार में मंडल डैम के जीर्णोद्धार की कवायद तेज, केंद्रीय टीम ने लिया जायजा

चांडिल डैम खोले जाने के बाद बागबेड़ा, कदमा, शास्त्री नगर, मानगो, भुईंयाडीह समेत अन्य जगहों में लोगों की दिक्कत बढ़ गयी है. नदी किनारे की बस्तियों में पानी घरों में घुस रहा है, जिसके कारण लोग समान को लेकर सड़क पर रहने को मजबूर हैं.

ये भी पढ़ें: खूंटी में झमाझम बारिश से तालाब में तब्दील हुई सड़कें! घरों में घुस रहा नालियों का पानी

वहीं बाढ़ के खतरे को देखते हुए जिला प्रशासन ने हाई अलर्ट जारी किया है. प्रशासन की ओर से नदी किनारे बस्तियों में एनाउंसमेंट कर लोगों को सुरक्षित जगह जाने को कहा गया है. साथ ही लोगों के लिए समुदायिक भवन और स्कूलों में रहने की व्यवस्था करायी जा रही है. जिला प्रशासन चांडिल डैम के अधिकारियों से भी संपर्क में है, ताकि यह पता चल सके की कब कितना पानी छोड़ा जा रहा है. 

(इनपुट: आशीष तिवारी)