close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहार: मुंगेर के योग स्कूल को मिलेगा प्रधानमंत्री योग सम्मान, विश्व में योग का लहराया परचम

21 जून 2016 को चंडीगढ़ में आयोजित दूसरे अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर प्रधानमंत्री ने योग के प्रचार-प्रसार में योगदान देने वाले लोगों और संस्थाओं को पुरस्कृत करने की घोषणा की थी. 

बिहार: मुंगेर के योग स्कूल को मिलेगा प्रधानमंत्री योग सम्मान, विश्व में योग का लहराया परचम
बिहार योग विद्यालय की स्थापना स्वामी सत्यानंद ने मुंगेर में 1964 में की थी.

मुंगेर: बिहार स्कूल ऑफ योगा मुंगेर को योग के विकास और प्रचार-प्रसार के लिए वर्ष 2019 का प्रधानमंत्री योग सम्मान दिया जाएगा. आयुष सचिव की अध्यक्षता वाली कमेटी ने 79 आवेदनों में से योग विद्यालय का चयन किया है. मंत्रालय ने यह पत्र 20 जून को जारी किया है. 21 जून 2016 को चंडीगढ़ में आयोजित दूसरे अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर प्रधानमंत्री ने योग के प्रचार-प्रसार में योगदान देने वाले लोगों और संस्थाओं को पुरस्कृत करने की घोषणा की थी. 

योग विद्यालय के नागरिक प्रतिनिधि शिव कुमार रूंगटा ने बताया कि राष्ट्रीय श्रेणी में गुजरात के लाइफ मिशन के स्वामी राजर्षि मुनि, जबकि अंतरराष्ट्रीय व्यक्तिगत श्रेणी में इटली की एंटोनिएटा रोजी, राष्ट्रीय संगठन की श्रेणी में बिहार योग विद्यालय मुंगेर और अंतरराष्ट्रीय संगठन श्रेणी में जापान के जापान योगा निकेतन को पुरस्कृत करने का निर्णय लिया गया है. 

बिहार योग विद्यालय की स्थापना स्वामी सत्यानंद ने मुंगेर में 1964 में की थी. और तब से लेकर आज तक बिहार स्कूल और योगा ने देश और दुनिया में योग के प्रचार प्रसार की संस्था बन गई है. इस संस्था ने विश्व में योग और भारतीय सांस्कृतिक का परचम लहराया है. आज मुंगेर बिहार स्कूल ऑफ़ योग को ये पुरुष्कार मिलने से मुंगेर के लोग काफी खुश हैं. इसके लिए प्रधानमंत्री का सभी को धन्यवाद भी दे रहे हैं.

आपको बता दें कि बिहार स्कूल ऑफ़ योग के हेड स्वामी निरंजनानंद सरस्वती को  योग के क्षेत्र के काम करने के लिए भारत के सर्वोचय सम्मान पदम् भूषण से भी नवाजा गया है. और योग के क्षेत्र में कार्य करने के लिए योग सम्मान मिलान अपने आप में एक बड़ी उपलब्धि है.