लोगों की उम्मीदों का ख्याल रखना पुलिस का दायित्व : नीतीश कुमार

नीतीश कुमार ने पुलिस अधिकारियों को नसीहत देते हुए बुधवार को कहा कि लोगों की उम्मीदों का ख्याल रखना उनका परम दायित्व है.

लोगों की उम्मीदों का ख्याल रखना पुलिस का दायित्व : नीतीश कुमार
नीतीश ने पुलिस थानों के लिए 1001 नए वाहनों को हरी झंडी दिखाई.(फाइल फोटो)

पटना: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पुलिस अधिकारियों को नसीहत देते हुए बुधवार को कहा कि लोगों की उम्मीदों का ख्याल रखना उनका परम दायित्व है. उन्होंने कहा कि सरकार पुलिस को सभी संसाधन उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्घ है और आगे भी इसके लिए तत्पर रहेगी. 

नीतीश ने यहां सरदार पटेल भवन में पुलिस थानों के लिए 1001 नए वाहनों को हरी झंडी दिखाकर रवाना करने के बाद एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि बिहार पुलिस की राज्य सरकार से जो अपेक्षाएं हैं, उसे हम कर रहे हैं, लेकिन लोगों की जो आकांक्षाएं और उम्मीदें पुलिस से हैं, उसका ख्याल रखना पुलिस का परम दायित्व है. 

उन्होंने कहा, "गड़बड़ करने वालों के खिलाफ कानून सम्मत कार्रवाई करने के लिए आपको पूरी स्वायत्तता और स्वतंत्रता है. बिहार की कानून-व्यवस्था का हर सूरत-ए-हाल में पालन होना चाहिए."

इस मौके पर मुख्यमंत्री ने बिहार पुलिस कफी टेबल बुक एवं बिहार पुलिस कैलेंडर-2019 का विमोचन भी किया. उन्होंने कहा कि इस काफी टेबल बुक में बिहार पुलिस के इतिहास और पुलिसकर्मियों के योगदान को बेहतर तरीके से उल्लेखित किया गया है, जो भी इसे देखेगा, उसे बिहार पुलिस के योगदान की जानकारी मिलेगी.

इससे पहले मुख्यमंत्री ने बिहार पुलिस के इतिहास तथा पिछले दशक में हुई कार्य क्षमता के उन्नयन से संबंधित चित्र प्रदर्शनी देखी.अवैध शराबधंधा करने वालों पर सख्त कार्रवाई करने की बात करते हुए नीतीश ने कहा, "शराबबंदी के बाद लोगों की मानसिकता बदली है. बिहार के माहौल में परिवर्तन हुआ है.आपराधिक वारदातों और घरेलू हिंसा में भी काफी कमी आई है. शराब का अवैध धंधा करने वालों पर तत्काल सख्त कार्रवाई होनी चाहिए." (इनपुट IANS से भी)