मरीजों की सुविधा का रखा जाय ख्याल, सरकार इलाज के लिए संसाधन में नहीं होने देगी कमी: नीतीश कुमार

Bihar News: सीएम नीतीश कुमार ने 10 जिलों के कोविड सेंटर का ऑनलाइन जायजा लेने के बाद अधिकारियों को मरीजों की हर सुविधा का ख्याल रखने का निर्देश दिया है.   

मरीजों की सुविधा का रखा जाय ख्याल, सरकार इलाज के लिए संसाधन में नहीं होने देगी कमी: नीतीश कुमार
सीएम नीतीश कुमार ने कोविड सेंटर का जायजा लिया

Patna: बिहार में जारी कोरोना महामारी (Coronavirus Cases In Bihar) के बीच राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने शनिवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से 10 जिलों के डेडिकेटेड कोविड हेल्थ सेंटर (Covid Centre) व 9 डेडिकेटेड कोविड हॉस्पिटल का जायजा लिया है. 

इस दौरान मुख्यमंत्री ने स्थिति की समीक्षा कर आवश्यक दिशा-निर्देश दिए हैं. सीएम ने अधिकारियों को मरीजों की हर सुविधा का ख्याल रखने का भी निर्देश दिया है. सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि सरकार की तरफ से संसाधनों की कोई कमी नहीं होने दी जाएगी. डेडिकेटेड कोविड हॉस्पिटल में आईसीयू बेडों की संख्या और बढ़ाने के लिए कहा गया है.

मुख्यमंत्री ने कहा कि चिकित्सक, नर्स व अन्य चिकित्साकर्मी सेंटर पर हमेशा उपलब्ध रहें. मरीजों के पास उनका लगातार विजिट हो ताकि प्रॉपर ट्रीटमेंट होने के साथ-साथ उनका मनोबल भी बना रहे. इसके अलावा बैठक में ग्रामीण क्षेत्रों में भी कोरोना जांच की संख्या और बढ़ाने के लिए कहा गया है. कोरोना संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए सभी जरूरी कदम उठाने के निर्देश दिए गए हैं. 

सीएम नीतीश कुमार ने इन जिलों के अधिकारियों के साथ बात की

मुख्यमंत्री को समस्तीपुर, पूर्णिया, सहरसा, सिवान, पूर्वी चंपारण, नालंदा, खगड़िया, औरंगाबाद, पटना और कटिहार जिले के जिलाधिकारियों ने डेडिकेटेड कोविड हेल्थ सेंटर की व्यवस्था के संबंध में विस्तृत जानकारी दी. उन्होंने मरीजों के इलाज की व्यवस्था, दवाइयों की उपलब्धता, सामुदायिक किचन के माध्यम से मरीजों के परिजनों के भोजन की व्यवस्था, ऑक्सीजन की उपलब्धता, डॉक्टरों, चिकित्सा कर्मियों की उपलब्धता एवं उनका वर्क प्रोसेस आदि के संबंध में विस्तृत जानकारी दी. 

ये भी पढ़ें- जब बिहार के मुख्यमंत्री को एक अधिकारी ने कहा- मैं CM बन सकता हूं पर आप IAS नहीं, बाद में बने भारत के विदेश मंत्री

इन मेडिकल कॉलेज के व्यवस्था का भी मुख्यमंत्री ने लिया जायजा

पीएमसीएच, एनएमसीएच, पटना, डीएमसीएच दरभंगा, जेएलएनएमसीएच भागलपुर, केटीएमसीएच मधेपुरा, एएनएमसीएच गया, वीआईएमएस पावापुरी, एसकेएमसीएच मुजफ्फरपुर, जीएमसीएच बेतिया में स्थापित डेडिकेटेड कोविड हॉस्पिटल के संबंध में डीएम व  मेडिकल सुपरिटेंडेंट/प्रिंसिपल ने अस्पताल में मरीजों के लिये किये जा रहे व्यवस्था, मेडिकल ट्रीटमेंट, संसाधनों की उपलब्धता के संबंध में विस्तृत जानकारी दी.

मरीजों ने सीएम से कहा- सरकार के प्रति आभार

मुख्यमंत्री ने वर्चुअल टूर के दौरान कुछ मरीजों के परिजनों से बात की और वहां की व्यवस्था के बारे में जानकारी ली. परिजनों ने मरीजों के इलाज एवं सेंटर पर की जा रही व्यवस्था को लेकर संतुष्टि जताई. मुख्यमंत्री ने कुछ स्वस्थ होरहे मरीजों से भी बातचीत के दौरान उनसे जाना कि वे कब भर्ती हुए, कैसे इलाज हुआ और अब क्या स्थिति है. मरीजों ने डॉक्टरों, नर्सों के प्रति आभार जताया.  

किसी प्रकार की ढिलाई नहीं बरतें

वर्चुअल निरीक्षण के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि आप सभी लोगों के द्वारा सेंटरों पर की जा रही व्यवस्थाओं की जानकारी दी गई. आप लोगों ने मरीजों के परिजनों से बात कराई, मरीजों की स्थिति भी बतायी. कोरोना संक्रमितों की संख्या अब कम होने लगी है. मरीजों की हर सुविधा का ख्याल रखा जा रहा है. उनके इलाज के लिये सभी जरूरी इंतजाम किये गये हैं. लॉकडाउन से कोरोना संक्रमण के फैलाव को रोकने में मदद मिली है. कोरोना संक्रमण के खिलाफ सभी लोगों को सचेत रहना है.

कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए सभी जरूरी कदम उठायें
मुख्यमंत्री ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में भी कोरोना जांच की संख्या और बढ़ाएं. कोरोना संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए सभी जरूरी कदम उठायें. होम आइसोलेशन वाले मरीजों की भी पूरी खबर रखें. होम विजिट करते रहें ताकि मरीजों का उनके घर पर बेहतर ट्रीटमेंट हो सके. कोविड अस्पतालों में मरीजों एवं उनके परिजनों की हर सुविधा का ख्याल रखें. कम्युनिटी किचन से परिजनों को समय भोजन उपलब्ध कराते रहें.