Agniveer Yojna: अग्निवीर बनने के लिए 86 हजार युवाओं ने दिखाया अपना जज्बा, 13 नवंबर को लिखित परीक्षा
topStories0hindi1362898

Agniveer Yojna: अग्निवीर बनने के लिए 86 हजार युवाओं ने दिखाया अपना जज्बा, 13 नवंबर को लिखित परीक्षा

Agniveer Yojna: सेना बहाली प्रक्रिया में हिस्सा लेने आए युवाओं का साफ तौर पर कहना है कि बचपन से ही उनकी ख्वाहिश थी कि सेना में जाकर मातृभूमि की सेवा की जा सके और इसके लिए अगर उन्हें मौत को भी गले लगाना होगा तो वह पीछे नहीं हटेंगे.

Agniveer Yojna: अग्निवीर बनने के लिए 86 हजार युवाओं ने दिखाया अपना जज्बा, 13 नवंबर को लिखित परीक्षा

रांचीः Agniveer Yojna: देश की सरहद पर राज्य के युवा दुश्मनों से लोहा लेते नज़र आएंगे. देशभक्ति के जोश और जज़्बे से लबरेज़ राज्य के युवा अग्निवीर बनने से महज कुछ कदम दूर हैं. दुबला पतला शरीर और सामान्य काया लेकिन देशभक्ति के जज़्बे से लबरेज़ ये युवा राज्य के विभिन्न जिलों से देश की सेवा करने और भारत माता के लिए अपनी जान न्योछावर करने का लक्ष्य लेकर रांची पहुंचे हैं. आर्मी बहाली प्रक्रिया में हिस्सा लेने आए युवाओं का जोश देखकर यह कहना गलत नहीं होगा कि अगर हम अपने देश में सुरक्षित हैं और रात को चैन की नींद सो पाते हैं इसके पीछे हमारे जवानों का हौसला है. जो सरहद पर मातृभूमि की रक्षा करते नजर आते हैं. 

86 हजार युवाओं ने लिया भाग
सेना बहाली प्रक्रिया में हिस्सा लेने आए युवाओं का साफ तौर पर कहना है कि बचपन से ही उनकी ख्वाहिश थी कि सेना में जाकर मातृभूमि की सेवा की जा सके और इसके लिए अगर उन्हें मौत को भी गले लगाना होगा तो वह पीछे नहीं हटेंगे. गौरतलब है कि 5 से 22 सितंबर तक झारखंड में आयोजित पुरुष अग्निवीरों की भर्ती में प्रदेश के युवाओं ने काफी उत्साह दिखाया है. इस बहाली में 86 हजार की संख्या में युवाओं ने भाग लिया है. जिसमें से 40 हजार युवाओं का चयन किया जाएगा.

जल्दी ही शुरू होगी प्रक्रिया
शारीरिक परीक्षण में सभी सफल अभ्यर्थियों की 13 नवंबर को खेलगांव में लिखित परीक्षा कराई जाएगी, जिसके बाद सभी प्रक्रिया पूरी हो जाएगी. अग्निवीर भर्ती झारखंड - बिहार के उपमहानिदेशक ब्रिगेडियर मुकेश गुरंग ने मीडिया को भर्ती की प्रक्रिया से वाकिफ कराया. अग्निवीरों की भर्ती में झारखंड भी दूसरे राज्यों से पीछे नहीं है. उन्होंने बताया कि भारी बारिश के बीच प्रदेश के युवाओं ने अग्निवीर में भर्ती होने के लिए गजब का उत्साह दिखाया है. वहीं बहाली को लेकर युवाओं में भी काफी उत्साह देखा जा रहा है. बहाली में पहुंचे सभी युवा अग्निपथ के माध्यम से देश की सेवा करना चाहते हैं. देश की सेवा करने का जज्बा सिर्फ झारखंड के छात्रों में ही नहीं है बल्कि छात्राओं ने भी इसमें अपनी भूमिका सुनिश्चित की है और हजारों छात्राओं ने प्रक्रिया में हिस्सा लेने के लिए रजिस्ट्रेशन करा लिया है जिसके लिए आने वाले दिन में प्रक्रिया शुरू की जाएगी.

यह भी पढ़िएः बिहार में पुलिसकर्मियों की 26 सितंबर से छुट्टी रद्द, पुलिस मुख्यालय ने बताई वजह

 

Trending news