RJD ने कहा- 'हम' का मतलब जीतनराम मांझी, JDU बोली- बुलबुले की तरह खत्म हो जाएगी पार्टी

जीतनराम मांझी की पार्टी 'हम' में टूट के बाद बिहार में सियासी गुनाभाग का दौर शुरु हो चुका है.

RJD ने कहा- 'हम' का मतलब जीतनराम मांझी, JDU बोली- बुलबुले की तरह खत्म हो जाएगी पार्टी
जेडीयू और आरजेडी ने हम पार्टी को लेकर बयान दिया है. (फाइल फोटो)

पटनाः जीतनराम मांझी की पार्टी 'हम' में टूट के बाद बिहार में सियासी गुनाभाग का दौर शुरु हो चुका है. जेडीयू ने दावा किया है कि हम पार्टी जल्द ही खत्म हो जाएगी. जल्द ही हम पार्टी में इस्तीफे का अगल दौर भी शुरु होगा. वहीं, आरजेडी ने हम पार्टी का मतलब जीतनराम मांझी को बताया है. कांग्रेस की माने तो टिकट को लेकर हम पार्टी में इस तरह के हालात हुए हैं जिसे ठीक नहीं कहा जा सकता है.
 
जीतन राम मांझी की पार्टी में हुई टूट ने रुलिंग पार्टी को नए सियासी आयाम ढूढ़ने का मौका दे दिया है. जेडीयू ने हम पार्टी में हुई टूट को लेकर बेहद उत्साहित है. पार्टी के प्रवक्ता राजीव रंजन ने दावा किया है कि हम पार्टी में अभी और इस्तीफे का दौरा चलेगा. जेडीयू प्रवक्ता ने दावा किया है कि हम पार्टी पानी के बुलबुले की तरह गायब हो जाएगी. पार्टी में एक ही कद के नेता वृषिण पटेल थे, लेकिन उन्होंने भी इस्तीफा दे दिया है.

उन्होंने कहा कि ऐसी पार्टियां सिर्फ एक आदमी की महात्वकांक्षा के कारण बनती है और टूट जाती हैं. मांझी को नीतीश कुमार ने जरुरत से ज्यादा सम्मान दे दिया था. जिसका सम्मान मांझी खुद नहीं कर पाए. मांझी के दोबारा एनडीए में वापसी की खबरों का खंडन करते हुए राजीव रंजन ने कहा कि मांझी के लिए अब एनडीए का रास्ता बंद हो चुका है. 

जेडीयू भले ही हम में टूट को लेकर वृषिण पटेल का फेवर ले रही हो. लेकिन आरजेडी ने वृषिण पटेल के फैसले को गलत ठहराया है. पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने कहा है कि वृषिण पटेल ने जो किया वो ठीक नहीं है. अलग अलग दलों में भी विचारों की भिन्नता देखने को मिलती है. इसमें कोई बुराई नहीं थी. हालांकि शिवानंद तिवारी ने साफ किया कि हम का मतलब सिर्फ जीतनराम मांझी हैं और कोई नहीं. वहीं, जीतनराम मांझी के फिर से एनडीए में वापसी पर शिवानंद तिवारी ने कहा कि मांझी खुद पॉलिटिकल सुसाईड नहीं करेंगे.

वहीं, कांग्रेस हम में हुई टूट को अलग ही नजरिये से देखती है. पार्टी के सीनियर लीडर विधान मंडल दल के नेता सदानंद सिंह ने कहा कि हम पार्टी नीतीश कुमार नाराज नेताओं को लेकर ही बनी थी. और जो हालात सामने आये हैं उसे टिकट को लेकर उपजा विवाद ही कहा जा सकता है. हम की स्थिती जो हालात बने हैं वो बिलकुल सही नहीं है.