Choke Throat by Chocolate: गले में चॉकलेट फंसने से तड़प उठा बच्चा, हो गई दर्दनाक मौत; जान लें ऐसी स्थिति में तुरंत बचाव के उपाय
topStories1hindi1460528

Choke Throat by Chocolate: गले में चॉकलेट फंसने से तड़प उठा बच्चा, हो गई दर्दनाक मौत; जान लें ऐसी स्थिति में तुरंत बचाव के उपाय

Causes and Remedies of Choke Throat: तेलंगाना के वारंगल में गले में चॉकलेट फंसने से 8 साल के एक बच्चे की दर्दनाक मौत हो गई. आपके बच्चों के साथ कभी ऐसी घटना न हो, इसके लिए आपको कई उपाय तुरंत जानने की जरूरत है. ये उपाय आज हम आपको बताते हैं.

Choke Throat by Chocolate: गले में चॉकलेट फंसने से तड़प उठा बच्चा, हो गई दर्दनाक मौत; जान लें ऐसी स्थिति में तुरंत बचाव के उपाय

Causes of Choke Throat: बच्चों को चॉकलेट या चॉकलेट फ्लेवर वाली टॉफी खाना बहुत पसंद होता है. लेकिन इसी चॉकलेट (Chocolate) ने एक पैरंट्स से उनके घर का चिराग हमेशा के लिए छीन लिया. बच्चे ने जैसे ही चॉकलेट खाई, वह उसके गले में फंस (Choke Throat) गई और सांस घुटने से उसकी दर्दनाक मौत हो गई. इस घटना के बाद परिवार में कोहराम मचा हुआ है और मां-बाप का रो-रोकर बुरा हाल है. ऐसे में यह जानना जरूरी हो जाता है कि ऐसी घटना होने पर हमें तुरंत क्या करना चाहिए, जिससे बच्चे की जान को कोई नुकसान न हो.

तेलंगाना के वारंगल जिले में हुई घटना

सहयोगी वेबसाइट 'DNA'के मुताबिक यह दुखदाई घटना तेलंगाना (Telangana) के शहर वारंगल (Warangal) में हुई. राजस्थान से करीब 20 साल वारंगल जाकर बसे कंघन सिंह वहां पर इलेक्ट्रॉनिक्स शोरूम चलाते हैं. उनके परिवार में पत्नी और 4 बच्चे थे. वे विदेश यात्रा के लिए ऑस्ट्रेलिया गए हुए थे. वहां से लौटने के बाद कंघन सिंह ने अपने बच्चों के लिए चॉकलेट (Chocolate) खरीदी और उन्हें दे दिया. सेकंड क्लास में पढ़ने वाला बेटा संदीप सिंह (8 वर्ष) ने स्कूल में जब वह चॉकलेट खाई तो वह उसके गले में फंस गई. 

गले में चॉकलेट फंसने से बच्चे की मौत

इसके चलते उसे सांस (Choke Throat) लेने में दिक्कत होने लगी और उसका दम घुटने लगा. उसे तड़पते देख साथ पढ़ने वाले बच्चे डर गए. क्लास टीचर ने जब बच्चे की यह हालत देखी तो तुरंत स्कूल मैनेजमेंट को सूचित किया, जिसके बाद बच्चे को पास के सरकारी MGH अस्पताल ले जाया गया. वहां पहुंचने तक बच्चा अचेत हो चुका था और उसकी धड़कने भी चलनी बंद हो गई थी. डॉक्टरों ने बच्चे को बचाने की पूरी कोशिश की लेकिन उसकी दुखदाई मौत हो गई. इस घटना से बच्चे के परिवार के साथ ही स्कूल में भी मातम पसरा हुआ है. 

क्यों होती हैं गला चोक होने की घटनाएं?

गले में खाने और सांस की नली एक ही होती है. इसलिए किसी भी चीज को चबा-चबाकर खाने की सलाह दी जाती है, जिससे वह गले (Causes of choke throat) में न फंसे. चॉकलेट, टॉफी, च्युंगम या ऐसी किसी चिपचिपी चीज को खाने पर उसे चबा पाना मुश्किल होता है. ऐसे में उसके गले में फंसने और गला चोक होने का खतरा बहुत ज्यादा बढ़ जाता है. ऐसे होने पर शरीर को मिलने वाली ऑक्सीजन की सप्लाई रुक जाती है और पीड़ित की कुछ ही पलों में मौत हो जाती है. 

गले में चीज फंसने पर क्या करें? (Remedies for Choke Throat)

- हेल्थ एक्सपर्टों के मुताबिक अगर आप एडल्ट हैं और कुछ खाते हुए आपका गला अचानक चोक हो जाए तो तुरंत जोर-जोर से खांसें. ऐसा करने से गले में फंसी वह चीज अंदर चली जाती है. अगर आपकी सांस की घुटन बढ़ जाती है तो तुरंत किसी को इशारा करके जोर-जोर से पीठ पर मारने का संकेत करें. ऐसा करने से गले में अटकी चीज अंदर चली जाती है. 

- अगर आपके सामने किसी का गला चोक हो गया है और दम घुंटने की वजह से उसकी आंख में आंसू आने लगे हैं तो तुरंत उसकी कमर पर जोर-जोर से मारें. ऐसा करने पर भी आराम ने हो तो पीड़ित व्यक्ति को कहें कि आगे की झुककर मुंह थोड़ा नीचे कर लें. इसके बाद एक हाथ उसकी छाती पर रखें और दूसरे हाथ से कमर पर जोर-जोर से वार करें. ऐसा करने से गले में अटकी चीज मुंह के रास्ते बाहर आ जाती है. 

इन उपायों से भी राहत नहीं मिल पा रही है तो एडल्ट व्यक्ति के पेट को जोर-जोर से दबाएं. ऐसा करने से गले में फंसी चीज बाहर निकल आती है. इस बात का ध्यान रखें कि गर्भवती महिलाओं और 1 साल के बच्चे पर इस ट्रिक का इस्तेमाल न करें. 

पेट दबाने से भी हो सकता है बचाव (Remedies for Choke Throat)

इन उपायों से भी राहत नहीं मिल पा रही है तो एडल्ट व्यक्ति के पेट को जोर-जोर से दबाएं. ऐसा करने से गले में फंसी चीज बाहर निकल आती है. इस बात का ध्यान रखें कि गर्भवती महिलाओं और 1 साल के बच्चे पर इस ट्रिक का इस्तेमाल न करें. पेट दबाने के लिए इन तरीकों का इस्तेमाल करें:-

- जिस व्यक्ति का दम घुट रहा है, उसके पीछे खुद को रखें.
- अपनी बाहों को उसकी कमर के ऊपर करके उसे आगे की ओर झुकाएं.
- एक मुट्ठी बनाएं और इसे उसकी नाभि के ठीक ऊपर रखें.
- अपने दूसरे हाथ को अपनी मुट्ठी के ऊपर रखें और अंदर और ऊपर की तरफ खीचें.
- इस काम को 5 बार और दोहराएं.

अगर पीठ और पेट पर दबाव डालने के बाद भी चोक हुआ गला नहीं खुलता है तो तुरंत पीड़ित को नजदीकी अस्पताल में लेकर भागें. ऐसा करने से उसकी जान बच जाएगी.

अगर बच्चे का दम घुंट रहा हो तो? (Remedies for Choke Throat)

अगर किसी चीज को मुंह में डालने से बच्चे का गला चोक हो जाए तो आप तुरंत उसके मुंह को खुलवाएं. अगर आपको गले में फंसी हुई चीज साफ दिखाई दे रही तो मुंह में उंगली डालकर उसे निकालने की कोशिश करें. लेकिन अगर गले में फंसी चीज नहीं दिख रही तो ऐसी गलती भूलकर भी न करें वरना वह चीज और ज्यादा फंस जाएगी. 

(पाठकों की पहली पसंद Zeenews.com/Hindi, अब किसी और की जरूरत नहीं)

Trending news