close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

CISF के सामने फिसली जुबान, खुल गई फर्जी पासपोर्ट की पोल, विदेशी नागरिक पहुंचा सलाखों की पीछे

तफ्तीश में इस विदेशी युवक का पासपोर्ट और वीजा फर्जी पाया गया. नतीजतन, सीआईएसएफ ने इस विदेशी युवक को स्‍थानीय पुलिस के हवाले कर दिया है. 

CISF के सामने फिसली जुबान, खुल गई फर्जी पासपोर्ट की पोल, विदेशी नागरिक पहुंचा सलाखों की पीछे
एयरपोर्ट की सुरक्षा एजेंसियों ने इस बाबत विदेश मंत्रालय के संबंधित विभाग और नाइजीरियन दूतावास को सूचना दे दी है. (फोटो: CISF)

नई दिल्‍ली: सीआईएसएफ के सामने एक विदेशी युवक की जुबान कुछ यूं फिसली कि वह सलाखों के पीछे पहुंच गया. दरअसल यह मामला गुवहाटी एयरपोर्ट का है. जहां नाइजीरिया मूल का एक नागरिक फर्जी पासपोर्ट और वीजा पर हवाई यात्रा की कोशिश में था. इस विदेशी युवक की संदिग्‍ध हरकतों को देखने के बाद सीआईएसएफ के अधिकारियों ने उसे हिरासत में ले लिया. पूछताछ के दौरान, इस विदेशी युवक की जुबान फिसल गई और वह सच बोल बैठा. जिसके बाद हुई तफ्तीश में इस विदेशी युवक का पासपोर्ट और वीजा फर्जी पाया गया. नतीजतन, सीआईएसएफ ने इस विदेशी युवक को स्‍थानीय पुलिस के हवाले कर दिया है. 

सीआईएसएफ के वरिष्‍ठ अधिकारी के अनुसार, 2 जून की दोपहर करीब 3:45 बजे सीआईएसएफ की इंटेलीजेंस विंग को गुवहाटी एयरपोर्ट के टर्मिनल गेट पर एक विदेशी नागरिक की गतिविधियों पर शक हुआ. शक के आधार पर इस विदेशी मुसाफिर को इंटरसेप्‍ट कर सीआईएसएफ ने पूछताछ शुरू की. पूछताछ के दौरान, इस शख्‍स ने अपना नाम चार्ल्‍स इंफी बताया. उसने बताया कि वह स्‍पाइस जेट की फ्लाइट एसजी-658 से कोलकाता होते हुए दिल्‍ली रवाना होने वाला है. पासपोर्ट की जांच के दौरान सीआईएसफ ने पाया कि पूछताछ के दौरान जो जानकारी इस नाइजीरिया मूल के शख्‍स ने दी थी, वह उसके पासपोर्ट में दर्ज जानकारियों से मेल नहीं खाती है. 

सीआईएसएफ के वरिष्‍ठ अधिकारी ने बताया, बयान और दस्‍तावेजों में विरोधाभाष देखने के बाद आरोपी विदेशी नागरिक के पासपोर्ट और वीजा को वैरिफिकेशन के लिए ब्‍यूरो ऑफ इमीग्रेशन के पास भेजा गया. जांच के बाद , ब्‍यूरो ऑफ इमीग्रेशन ने आरोपी के पासपोर्ट और वीजा को फर्जी पाया. जिसके बाद हुई पूछताछ में आरोपी ने बताया कि उसका यूचेन्‍ना है. मौजूदा समय में वह दिल्‍ली के छतरपुर इलाके में गैर कानूनी तरीके से रह रहा है. उसने बताया कि तीन साल पहले उसका वास्‍तविक पासपोर्ट खो गया था. जिसके बाद उसने कुछ लोगों की मदद से फर्जी पासपोर्ट हासिल किया. 

सीआईएसएफ के वरिष्‍ठ अधिकारी ने बताया कि आरोपी को उसके फर्जी पासपोर्ट और वीजा के साथ स्‍थानीय पुलिस के हवाले कर दिया गया है. स्‍थानीय पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है. वहीं, एयरपोर्ट की सुरक्षा एजेंसियों ने इस बाबत विदेश मंत्रालय के संबंधित विभाग और नाइजीरियन दूतावास को सूचना दे दी है.