Aurangabad: 1 लाख रुपये किलो बिकने वाली Hop-Shoots सब्जी की खेती का दावा निकला झूठा, युवक हुआ अंडरग्राउंड

ZEE NEWS की पड़ताल और कृषि विज्ञान केंद्र में वरीय वैज्ञानिक डॉ. नित्यानंद के दौरे के बाद ये साफ हो गया है कि औरंगाबाद में Hop-Shoots की खेती करने वाली खबर झूठी है. इसके बाद से ही दावाकर्ता अमरेश अंडरग्राउंड हो गया है.

Aurangabad: 1 लाख रुपये किलो बिकने वाली Hop-Shoots सब्जी की खेती का दावा निकला झूठा, युवक हुआ अंडरग्राउंड

औरंगाबाद: कुछ दिन पहले सोशल मीडिया पर हॉप-शूट्स (Hop-Shoots) नाम की एक सब्जी चर्चाओं में आई थी, जिसकी कीमत 1 लाख रुपये थी. दावा किया जा रहा था कि इसे बिहार के औरंगाबाद शहर में स्पेशल खेती करके उगाया गया था. एक IAS अधिकारी ने भी इस खबर को ट्विटर पर शेयर किया था. हालांकि जब इसकी पड़ताल की गई तो ये दावा झूठा निकला. 

'हमने हॉफ शूट्स को देखा तक नहीं है'

ZEE NEWS के रिपोर्टर मनीष कुमार ने ग्राउंड जीरो पर जाकर जाना कि ऐसी कोई जिले के कृषि महकमें में नहीं हो रही है. पड़ताल में पाया गया कि जिस गांव करमडीह में लगभग 5 कट्ठे में इस फसल की खेती करने का जिक्र अमरेश ने अपने दावे में किया था, वहां इस तरह की कोई फसल नहीं लगी है. यहां तक कि अमरेश के बेटे और पिता ने भी करमडीह में हॉफ शुट्स की खेती किए जाने से इनकार किया और कहा कि खेती की बात तो दूर, उन सभी ने हॉफ शुट्स को देखा तक नहीं है.

ये भी पढ़ें:- छत्तीसगढ़: बीजापुर में सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़, 5 जवान शहीद

खेती में जरूरी तापमान औरंगाबाद में नहीं

इतना ही नहीं, जब कृषि विज्ञान केंद्र में वरीय वैज्ञानिक डॉ. नित्यानंद ने सोशल मीडिया के जरिए हॉप शूट्स की खेती की खबर पढ़ी तो भी इसकी पड़ताल करने करमडीह गांव निकल पड़े. अपनी जांच के दौरान उन्होंने भी खेती के दावे को झूठा पाया और कहा कि हॉफ शूट्स की खेती के लिए जो तापमान चाहिए वह औरंगाबाद में किसी भी मौसम में नहीं रहता. बहरहाल पोल खुलने के बाद अमरेश एक बार फिर अंडरग्राउंड हो गया है और लोगों से बचता फिर रहा है.

ये भी पढ़ें:- इस राज्य में बिना परीक्षा के पास होंगे छात्र, कोरोना कहर के बीच लिया गया अहम फैसला

क्यों इतनी महंगी है ये सब्जी?

सब्जी का कीमत इसलिए ज्यादा है, क्योंकि इसका इस्तेमाल बीयर में फ्लेवरिंग एजेंट के तौर पर किया जाता रहा है. अब इसे हर्बल मेडिसिन में प्रयोग किया जाता है. यही नहीं, इसे सब्‍जी के रूप में भी खाया जाता है. इस सब्जी के प्रयोग से हमारे शरीर में मौजूद कैंसर सेल्‍स (Cancer Cells) खत्म हो जाते हैं. IAS सुप्रिया साहू ने दावा किया था कि बिहार के औरंगाबाद में अमरेश सिंह नाम के किसान हॉप-शूट्स (hop-shoots) सब्जी की खेती कर रहे हैं. इस सब्जी को दुनिया की सबसे महंगी सब्जी कहा गया है.

VIDEO-

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.