close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

संसद में कैसी होगी प्लानिंग, मशविरे के लिए सोनिया गांधी के घर पर जुटे दिग्गज कांग्रेसी

कांग्रेस नेता यहां 'एक राष्ट्र, एक चुनाव' और 'तीन तलाक' के साथ-साथ अन्य मुद्दों पर पार्टी के रुख पर चर्चा करेंगे. कांग्रेस सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी है, हालांकि लोकसभा में विपक्ष के नेता का पद पाने के लिए उसके पास दो सीटें कम हैं.

संसद में कैसी होगी प्लानिंग, मशविरे के लिए सोनिया गांधी के घर पर जुटे दिग्गज कांग्रेसी
यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी.

नई दिल्ली: कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम, के. सुरेश, आनंद शर्मा, गुलाम नबी आजाद, जयराम रमेश और अधीर रंजन चौधरी ने मंगलवार को संसद के बजट सत्र में कांग्रेस की रणनीति पर चर्चा करने के लिए संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) अध्यक्ष सोनिया गांधी के आवास पर मुलाकात कर रहे हैं. सूत्रों ने कहा कि महत्वपूर्ण सत्र से पहले हो रही इस बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी शामिल हो सकते हैं.

कांग्रेस नेता यहां 'एक राष्ट्र, एक चुनाव' और 'तीन तलाक' के साथ-साथ अन्य मुद्दों पर पार्टी के रुख पर चर्चा करेंगे. कांग्रेस सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी है, हालांकि लोकसभा में विपक्ष के नेता का पद पाने के लिए उसके पास दो सीटें कम हैं.

सूत्र ने कहा कि लोकसभा में कांग्रेस सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी है इसलिए पार्टी पर संसद के निचले सदन में मजबूत विपक्ष की महत्वपूर्ण भूमिका निभाने की बड़ी जिम्मेदारी है. कांग्रेस इस सत्र का उपयोग समान विचारधारा वाले दलों के साथ समान एजेंडों का खाका तैयार करने के लिए भी करेगी.

सोमवार को कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद आनंद शर्मा ने कहा, "सरकार को फरमान जारी करने वाली संस्कृति को खत्म कर संसदीय प्रक्रिया का सम्मान करना चाहिए, महत्वपूर्ण विधेयकों को संसदीय समितियों के पास भेजना चाहिए और इसके बाद कानून पारित करने से पहले इस पर सदन में भी चर्चा होनी चाहिए."

सूत्र ने कहा कि कांग्रेस नेता लोकसभा में पार्टी नेता पर भी चर्चा कर सकते हैं. पार्टी ने इससे पहले सोनिया गांधी को लोकसभा में लगातार दूसरी बार कांग्रेस संसदीय दल का नेता नियुक्त किया था. सोनिया गांधी को लोकसभा में कांग्रेस का नेता नियुक्त करने की भी जिम्मेदारी दी गई है.