Zee Rozgar Samachar

Coronavirus Vaccination अभियान: जानिए कौन है वो खुशनसीब इंसान जिसे लगा कोरोना का सबसे पहला टीका?

#LargestVaccineDrive: आज से देश में दुनिया के सबसे बड़े कोरोना टीकाकरण अभियान की शुरुआत हो गई. कोरोना का पहला टीका दिल्‍ली के एम्‍स में लगाया गया. 

Coronavirus Vaccination अभियान: जानिए कौन है वो खुशनसीब इंसान जिसे लगा कोरोना का सबसे पहला टीका?
एम्‍स के कर्मचारी मनीष कुमार को लगा है कोरोना का सबसे पहला टीका.

नई दिल्‍ली: अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) में आज 16 जनवरी को  राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान की शुरुआत हुई. यहां अस्पताल के एक सफाईकर्मी मनीष कुमार (Manish Kumar) को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन की उपस्थिति में कोविड-19 का पहला टीका लगाया गया. मनीष देश की राजधानी दिल्‍ली में कोरोना का टीका लगवाने वाले पहले शख्स बन गए हैं. 

वैक्‍सीन लगवाने के बाद मनीष कुमार (Manish Kumar) ने कहा, 'अफवाहों पर ध्‍यान न दें. कोरोना का टीका मैंने लगवाया है. मैं ठीक हूं और ये टीका सुरक्षित है.'

वैक्‍सीनेशन अभियान (Coronavirus Vaccination Programme) की शुरुआत पर एम्स के निदेशक रणदीप गुलेरिया (Randeep Guleria) को भी कोरोना का टीका लगाया गया.  इस दौरान वहां उपस्थित लोगों ने तालियां बजाकर उनकी सराहना की. 

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन (Dr. Harsh Vardhan) ने कहा कि दोनों टीके- भारत बायोटेक की स्वदेशी कोवैक्सीन और ऑक्सफोर्ड/एस्ट्राजेनेका की कोविशील्ड, इस महामारी (COVID-19)  के खिलाफ लड़ाई में एक 'संजीवनी' हैं.

AIIMS के डायरेक्टर Randeep Guleria समेत कई बड़ी हस्तियों ने लगवाई Corona Vaccine

टीका अभियान की शुरुआत के बाद हर्षवर्धन ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, "ये टीके महामारी के खिलाफ लड़ाई में हमारी 'संजीवनी' हैं. हमने पोलियो के खिलाफ लड़ाई जीती है और अब हम कोविड के खिलाफ युद्ध जीतने के निर्णायक चरण में पहुंच गए हैं.  मैं इस अवसर पर सभी फ्रंटलाइन कर्मियों को बधाई देता हूं. "

सरकार के अनुसार, लगभग एक करोड़ स्वास्थ्य कर्मचारियों और दो करोड़ फ्रंटलाइन कर्मियों को पहले टीके लगाए जाएंगे, उसके बाद 50 साल से अधिक उम्र के व्यक्तियों को और फिर 50 साल से कम उम्र के मरीजों को टीके लगाए जाएंगे. 

दुनिया के सबसे बड़े Corona टीकाकरण अभियान की शुरुआत, देश को संबोधित करते हुए भावुक हुए PM मोदी

स्वास्थ्य और फ्रंटलाइन कर्मियों के टीकाकरण की लागत केंद्र सरकार वहन करेगी. 

बिहार में भी सफाई कर्मचारी को लगाया गया पहला टीका

बिहार में भी टीकाकरण अभियान के तहत वैक्‍सीन लगाई गई. पटना के इंदिरा गांधी इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (आईजीआईएमएस) से वैक्‍सीनेशन प्रोग्राम की शुरुआत हुई. इस मौके पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय भी उपस्थित रहे. बिहार में पहला टीका आईजीआईएमएस के सफाई कर्मचारी राम बाबू को लगा, वहीं दूसरा टीका इसी संस्थान के एम्बुलेंस चालक अमित कुमार को लगाया गया. 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.