नीलाम हो गई दाऊद इब्राहिम की प्रॉपर्टी, 3.5 करोड़ में बिकी अमीना बिल्डिंग

इससे पहले दाऊद इब्राहिम की 3 संपत्तियां नीलाम की जा चुकी हैं. जिसमें एक रेस्टोरेंट, गेस्ट हाउस और एक घर शामिल था.

नीलाम हो गई दाऊद इब्राहिम की प्रॉपर्टी, 3.5 करोड़ में बिकी अमीना बिल्डिंग
फाइल फोटो

मुंबई (सुभाष दवे) : अंडरवर्ल्ड माफिया दाऊद इब्राहिम की मुंबई स्थित एक संपत्ति की गुरुवार को नीलामी की गई. इस नीलामी में सबसे ऊंची बोली सैफी बुरहानी अपलिफ्टमेंट ट्रस्ट (एसबीएटी) ने लगाई और दाऊद की प्रॉपर्टी को साढ़े तीन करोड़ रुपये में खरीद लिया. 

भारत सरकार के वित्त मंत्रालय के जरिए स्मगलर और फॉरेन एक्सचेंज एक्ट के तहत कुल 9 प्रॉपर्टी को सीज किया गया था, जिसमें अंतरराष्ट्रीय आतंकी दाऊद इब्राहिम की भी एक संपत्ति थी. दक्षिण मुंबई के पाकमोडिया स्ट्रीट में अमीना बिल्डिंग 1000 वर्ग फुट जमीन जिस पर अवैध तरीके से 4000 वर्ग फुट का चार मंजिला इमारत दाऊद इब्राहिम की थे. इसे 3 करोड़, 51 लाख में सैफी बुरहानी अपलिफ्टमेंट ट्रस्ट ने बोली लगाकर खरीदा.

दक्षिण मुंबई के पाकमोडिया स्ट्रीट पर चार मंजिला इमारत का मालिक आतंकी दाऊद इब्राहिम है. लेकिन अब यह संपत्ति दाऊद इब्राहिम की नहीं रही इसे सैफी बुरहानी अपलिफ्टमेंट ट्रस्ट ने खरीद लिया. वित्त मंत्रालय के जरिए इसे नीलाम किए जाने के दौरान ट्रस्ट ने 3 करोड़, 51 रूपए में खरीद लिया. बोली लगाने वालों में दिल्ली के वकील भूपेंद्र भारद्वाज भी रहे. भारद्वाज ने 1 करोड़, 91 रुपए की बोली लगाई थी. भूपेंद्र ने भारत के दुश्मन दाऊद इब्राहिम और दूसरे लोगों के खिलाफ मुहिम छेड़ रखी है. दाऊद की संपत्ति को खरीदने की मंशा उन्होंने स्पष्ट कर दी कि भारत के दुश्मनों का कोई भी वजूद भारत में नहीं रहना चाहिए.

इससे पहले दाऊद इब्राहिम की 3 संपत्तियां नीलाम की जा चुकी हैं. जिसमें एक रेस्टोरेंट, गेस्ट हाउस और एक घर शामिल था. पिछली नीलामी के दौरान सरकार ने दाऊद इब्राहिम की तीन संपत्तियों को कुल 11 करोड़ रुपए में नीलाम किया था. हालांकि नीलामी के बाद इन संपत्तियों पर कब्जा करने में बोली लगाने वालों को काफी तकलीफ झेलनी पड़ी. लेकिन स्थानीय प्रशासन के हस्तक्षेप के बाद इन संपत्तियों पर बोली लगाने वालों का कब्जा मिल सका. 

हालांकि इस नीलामी में बेधड़क हिस्सा लेने वाले लोगों ने साफतौर पर कहा कि दाऊद का तिलस्म अब खत्म हो चुका. पहले दाऊद के डर से उसकी संपत्तियों को कोई नहीं ले सकता था लेकिन अब यह भय लोगों में नहीं है. अब लोग बढ़-चढ़ कर नीलामी में हिस्सा ले रहे हैं. इस नीलामी में 25 लोगों ने हिस्सा लिया था. यह बोली ई-ऑक्सन के जरिए लगाई गई थी.