Zee Rozgar Samachar

दिल्ली: फर्जी 'कर्फ्यू पास' के जरिए दिल्ली छोड़कर भाग रहे 8 लोगों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

पूरा मामला बुधवार दोपहर करीब 12 बजे का है जब दिल्ली पुलिस के जवान रानी झांसी रोड पर आने जाने वाली गाड़ियों की चेकिंग कर रहे थे.

दिल्ली: फर्जी 'कर्फ्यू पास' के जरिए दिल्ली छोड़कर भाग रहे 8 लोगों को पुलिस ने किया गिरफ्तार
फाइल फोटो

नई दिल्ली: कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए सरकार ने पूरे देश में लॉकडाउन (Lockdown) जारी कर रखा है. ऐसे में जरूरी सेवाओं से जुड़े लोगों को कर्फ्यू पास (Special Curfew Pass) के जरिए सरकार ने आवाजाही की परमिशन दी है. लेकिन कुछ लोग चालाकी से फर्जी कर्फ्यू पास बनाकर दिल्ली पुलिस (Delhi Police) को चकमा देकर दिल्ली छोड़कर भागने की कोशिश कर रहे थे. लेकिन पुलिस की सर्तकता ने उनके मनसूबों पर पानी फेर दिया.

पूरा मामला बुधवार दोपहर करीब 12 बजे का है जब दिल्ली पुलिस के जवान रानी झांसी रोड पर आने जाने वाली गाड़ियों की चेकिंग कर रहे थे. इसी दौरान उन्होंने एक महिंद्रा कार को रोका जिसमें 5 पुरुष, एक महिला और दो बच्चे सवार थे. पूछताछ में उन्होंने बताया कि दिल्ली के सदर बाजार इलाके के रहने वाले हैं और अपने मूलस्थान बिहार जा रहे हैं. उन्होंने पुलिसकर्मी को डीसी नॉर्थ द्वारा जारी कर्फ्यू पास भी दिखाया. लेकिन पुलिसकर्मी को इनकी बातों पर विश्वास नहीं हुआ.

ये भी पढ़ें:- पालघर हत्‍याकांड पर ZEE NEWS का खुलासा, साधुओं की हत्‍या पर आई सबसे बड़ी 'गवाही'

जिसके बाद पुलिसकर्मी ने उनके कर्फ्यू पास की जांच की तो पता चला कि ये फर्जी है और ये लोग पुलिस को चकमा देने की कोशिश कर रहे हैं. जिसके बाद पुलिस ने केस दर्ज कर इन लोगों को गिरफ्तार कर लिया. हालांकि बाद में उन्हें जमानत पर छोड़ दिया गया. पुलिस की पूछताछ में कार के ड्राइवर मकसूद आलम ने बताया कि उसका फूफा मोहम्मद मुनीफ बिहार के एक अस्पताल में भर्ती है, जिसके चलते उनका बेटा इरशाद उनसे मिलने बिहार जाना चाहता था. इसके लिए उन्होंने सदर बाजार थाने से कर्फ्यू पास की मांग की थी. लेकिन थाने में मौजूद पुलिसकर्मियों ने इन्हें पास देने से इंकार करते हुए डीसीपी ऑफिस जाने की सलाह दी थी. लेकिन डीसीपी ऑफिस से भी उन्हें पास नहीं मिला. 

आगे उन्होंने बताया कि सद्दाम नाम के उनके जानकर ने ऐसे इंसान का पता बताया जो फर्जी पास का इंतजाम करवा देता है. जिसके बाद ये लोग सैयद फहद नाम के शख्स से मिले, जिसने इन्हें फर्जी कर्फ्यू पास मुहिया करवा दिया. जो कर्फ्यू पास की व्यवस्था की गई थी उस पर ड्राइवर मकसूद आलम का नाम लिखा हुआ था. जो NGO प्रॉब्लम एंड सलूशन, सीतामढ़ी बिहार के एड्रेस पर था और 24.04.20 तक वैध था. फिलहाल  पुलिस फहद की तलाश कर रही है और साथ ये जानने की कोशिश कर रही है किसकी मदद से फहद ने कर्फ्यू पास की व्यवस्था की.

ये भी देखें:- 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.