शॉर्ट सर्किट से लगी आग में झुलस गया परिवार, 3 की जिंदा जलने से मौत

खेतों में स्थित सुभाष की ढाणी में सुरेश और प्रभु नाम के दो भाइयों के परिवार के 8 सदस्य शुक्रवार रात को खाना खाकर सोये थे,  लेकिन उन्हें क्या पता था कि यह रात उन पर दर्द का सितम ढ़हाने वाली है.

शॉर्ट सर्किट से लगी आग में झुलस गया परिवार, 3 की जिंदा जलने से मौत
आसपास के लोगों ने अपने स्तर पर बचाव के प्रयास किए और आग बुझाई.

(रोहित कुमार)/हिसारः हिसार के उकलाना के नजदीकी गांव भैरी अकबरपुर की खेतों में बनी ढाणी में शॉर्ट सर्किट से एक मकान में आग लग गई. दर्दनाक हादसे में एक परिवार के 3 सदस्यों की जिंदा जलने से मौत हो गई. हादसा इतना दर्दनाक था कि घर का पूरा सामान भी जल गया. मौके पर जली हालत में नजर आ रही चारपाई और जली हालत में नजर आ रहे कपड़े-किताबें और अन्य सामान रात के दर्द भरे वाक्ये को बयान करने के लिए काफी है. बताया जा रहा है कि हादसा घर में शॉर्ट सर्किट से हुआ है. खेतों में स्थित सुभाष की ढाणी में सुरेश और प्रभु नाम के दो भाइयों के परिवार के 8 सदस्य शुक्रवार रात को खाना खाकर सोये थे,  लेकिन उन्हें क्या पता था कि यह रात उन पर दर्द का सितम ढ़हाने वाली है. दर्द भी ऐसा जो नासूर बन जायेगा.

VIDEO: दिल्ली की भजनपुरा मार्केट में लगी आग, लाखों का सामान जलकर खाक

पीड़ित प्रभु ने बताया कि 'रात को सब खाना खाकर सोए थे, मैं बराबर वाले कमरे में सोया हुआ था. इसी बीच रात के वक्त अचानक धुएं के कारण दम घुटने लगा. आंख खुली तो देखा घर को आग की लपटों ने घेर रखा है. जैसे-तैसे करके परिवारिक सदस्यों को आग से बचाने का प्रयास किया. इस बीच खुद के हाथ और सिर का एक हिस्सा भी झुलस गया. चीख पुखार सुन कर पास के खेतों में सिंचाई कर रहे पड़ोसियों ने मदद करने के प्रयास किए. पड़ोसी जगदीश कुमार और सुरेश कुमार ने बताया कि 'शनिवार सुबह करीब एक बजे की बात है, खेतों में फसलों को पानी दे रहे थे, अचानक सुरेश और प्रभु के घर में चीखे सुनने लगी. मौके पर दौड़े तो देखा आग लगी हुई थी, बचाव का प्रयास किया तो हमें भी करंट लगा.

कानपुर: शार्ट सर्किट से सपना टॉकीज में लगी आग, लोगों में हड़कंप

ऐसे में हमने तारे काट कर झुलसे परिवार के 4 सदस्यों को किसी तरह बचाव के लिए अस्पताल भिजवाया. मौके पर सुरेश की पत्नी सुमन, उसकी बेटी ईशा और बेटी रजनी की मौत हो गई थी. हादसे में खुद सुरेश कुमार और उसकी बेटी नीशा और गीता तथा उसके भाई प्रभु की बेटी पूजा गंभीर रूप से जख्मी हो गए. फिलहाल उनका उपचार चल रहा है. बताया जा रहा है कि रात के वक्त दमकल विभाग की गाड़ी भी मौके के लिए रवाना हुई थी, लेकिन रास्ते में खेतों में कच्चे रास्ते में फंस जाने के कारण वो मौके पर नहीं पहुंच पाई. ऐसे में आसपास के लोगों ने अपने स्तर पर बचाव के प्रयास किए. 

मामले की सूचना मिलने के बाद फोरेसिंक विभाग की टीम के अलावा पुलिस के अधिकारी भी मौके पर पहुंचे. बरवाला के एसडीएम पृथ्वी सिंह, फतेहाबाद के एसपी दीपक सहारण और उकलाना के एसएचओ कृष्ण लाल ने भी घटनास्थल का निरीक्षण कर साक्ष्य जुटाएं है. फतेहाबाद के एसपी दीपक ने कहा कि 'मामले की जांच की जाएगी, उसके बाद कार्रवाई अमल में लाई जाएगी.'' जनप्रतिनिधियों और ग्रामीणों ने आर्थिक मदद की मांग की है. हादसे की सूचना जैसे ही आज भैरी अकबरपुर और आस-पास के इलाके में पहुंची तो घटनास्थल पर काफी भीड़ जमा हो गई.

Three people died after fire caused by a short circuit

पूर्व विधायक नरेश सेलवाल, कामरेड हरदीप सिंह ने कहा कि 'पीड़ित परिवार की आर्थिक हालत ठीक नहीं है. दोनों के परिवार में 8 बेटियां है, इससे पहले भी उनके मकान की छत ढह गई थी. ऐसे में सरकार को चाहिए कि पीड़ित परिवार को 25 लाख रुपए का मुआवजा और आर्थिक मदद देनी चाहिए. साथ ही मामले की जांच कर हाइवोल्टेज सप्लाई करने के कारणों का पता लगाना चाहिए और कार्रवाई होनी चाहिए.''