Parliament Session: भोजपुरी में शपथ लेने की चाहत रह गई अधूरी, राजीव प्रताप रूडी ने जताया अफसोस
Advertisement
trendingNow12306784

Parliament Session: भोजपुरी में शपथ लेने की चाहत रह गई अधूरी, राजीव प्रताप रूडी ने जताया अफसोस

Parliament Session Update: बिहार के सारण से भाजपा सांसद राजीव प्रताप रूडी ने सोमवार को लोकसभा में शपथ लेने से पहले इस बात पर अफसोस जताया कि नियमों के चलते वह भोजपुरी में शपथ नहीं ले सकते.

Parliament Session: भोजपुरी में शपथ लेने की चाहत रह गई अधूरी, राजीव प्रताप रूडी ने जताया अफसोस

Parliament Session Update: बिहार के सारण से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसद राजीव प्रताप रूडी ने सोमवार को लोकसभा में शपथ लेने से पहले इस बात पर अफसोस जताया कि नियमों के चलते वह भोजपुरी में शपथ नहीं ले सकते. लोकसभा में सोमवार को उस समय भाषाई विविधता की झलक देखने को मिली, जब अनेक नवनिर्वाचित सांसदों ने हिंदी के साथ-साथ संस्कृत, डोगरी, बांग्ला, असमिया, तेलुगू, मलयालम, उड़िया तथा कुछ अन्य भारतीय भाषाओं में शपथ ली.

भोजपुरी संविधान की आठवीं अनुसूची में सूचीबद्ध नहीं

सांसद अंग्रेजी या संविधान की आठवीं अनुसूची में सूचीबद्ध 22 भाषाओं में से किसी में भी शपथ ले सकते हैं. भोजपुरी संविधान की आठवीं अनुसूची में सूचीबद्ध नहीं है. राष्ट्रीय जनता दल (राजद) की उम्मीदवार और पार्टी प्रमुख लालू प्रसाद की बेटी रोहिणी आचार्य को हराने वाले रूडी ने कहा कि सांसदों को अपनी मातृभाषा में शपथ लेते हुए देखना अच्छा लगा. उस समय आसन से कार्यवाही का संचालन बिहार के पूर्वी चंपारण से भाजपा सांसद राधामोहन सिंह कर रहे थे. 

भोजपुरी नहीखे त...

रूडी ने पीठासीन सभापति को भोजपुरी में संबोधित करते हुए कहा, ‘‘सब लोग अपन अपन भाषा में ले ता केतना अच्छा लागता, हमनी भोजपुरी में लेती तो और निम्मन लागत नू, भोजपुरी नहीखे त..... (सब अपनी-अपनी भाषा में शपथ ले रहे हैं और यह बहुत अच्छा लग रहा है... अगर हम भोजपुरी में शपथ लेते तो और भी अच्छा होता, लेकिन भोजपुरी सूची में नहीं है).’’ इसके बाद रूडी ने हिंदी में शपथ ग्रहण की.

बांसुरी स्वराज ने संस्कृत में शपथ ली

दिवंगत विदेश मंत्री सुषमा स्वराज की बेटी बांसुरी स्वराज ने संस्कृत भाषा में शपथ ली. इससे पहले सुषमा स्वराज जब साल 2014 में विदिशा लोकसभा सीट से सांसद निर्वाचित हुई थीं, तब उन्होंने भी बतौर संसद सदस्य संस्कृत में शपथ ली थी. बांसुरी स्वराज ने अपने पहले लोकसभा चुनाव में नई दिल्ली निर्वाचन क्षेत्र से जीत हासिल की है.

Trending news