close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

एक बार फिर विवादों में JNU, छात्रों पर एसोसिएट प्रोफेसर को बंधक बनाने का आरोप

दिल्ली की जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी एक बार फिर विवादों में है.जेएनयू में छात्रों के हंगामा किए जाने का मामला एक बार फिर से सामने आया है.

एक बार फिर विवादों में JNU, छात्रों पर एसोसिएट प्रोफेसर को बंधक बनाने का आरोप

नई दिल्ली:दिल्ली की जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी(JNU) एक बार फिर विवादों में है. जेएनयू में छात्रों के हंगामा किए जाने का मामला सामने आया है. जेएनयू की असोसिएट डीन स्टूडेंट्स वंदना मिश्रा ने आरोप लगाया है कि कुछ छात्रों ने उन्हें बंधक बना रखा है. छात्र स्कूल ऑफ इंटरनेशनल स्टडीज भवन में अपने क्लास रूम से जाने नहीं दे रहे हैं. यह छात्रों के लिए शर्मनाक और अशोभनीय है. बताया जा रहा है कि हॉस्टल के नियमों में बदलाव को लेकर छात्रों और एडमिनिस्ट्रेशन के बीच पिछले कई दिनों से टकराव जारी है.

 

छात्र भूख हड़ताल पर हैं. इधर, छात्रों का आरोप है कि जेएनयू प्रशासन उनकी स्वतंत्रता पर चोट कर रहा है. जेएनयू छात्र संघ का कहना है कि प्रशासन ने हॉस्टल के नियमों में तब्दीली करने का फैसला कर लिया है. इस पूरे फैसले में छात्रों को शामिल नहीं किया गया है.

विश्वविद्यालय प्रशासन चाहता है कि हॉस्टल से रात 11 बजे के बाद निकलने में पाबंदी लगा दी जाए. इसके साथ ही स्टूडेंट्स को हॉस्टल में ड्रेस कोड के तहत लाया जाए. और लाइब्रेरी की समय सीमा तय की जाए. आरोप ये भी है कि प्रशासन चाहता है कि हॉस्टल के कर्मचारियों की तनख्वाह भी स्टूडेंट के हिस्से से ली जाए.