CAA, NRC के नाम पर देश में कोई न फैला पाए अफवाह, जनता न हो भ्रमित BJP ने बनाया ये प्लान
Advertisement

CAA, NRC के नाम पर देश में कोई न फैला पाए अफवाह, जनता न हो भ्रमित BJP ने बनाया ये प्लान

नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act) और राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (एनआरसी) के नाम पर देश में पिछले कई दिनों से प्रदर्शन हो रहे हैं. 

 

बीजेपी ने सीएए के बारे में पूरी जानकारी देने के लिए पर्चा भी छापा है,

नई दिल्ली: नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act) और राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर  (एनआरसी) के नाम पर देश में पिछले कई दिनों से प्रदर्शन हो रहे हैं. लोगों के बीच तमाम तरह की अफवाह फैलाई जा रही है. अफवाहों को विराम देने के लिए बीजेपी संबद्ध संस्था 'श्यामा प्रसाद मुखर्जी न्यास' ने कमर कसी है. श्यामा प्रसाद मुखर्जी न्यास' ने 43 पृष्ठों का श्वेतपत्र जारी किया है. श्वेतपत्र के माध्यम से इस कानून को लेकर फैले भ्रम को दूर करने की कोशिश की गई है. संस्था ने इसके साथ ही विस्तार से इस कानून की जानकारी देने के लिए 30 पन्नों वाली एक पुस्तिका भी जारी की है.

भाजपा की पत्रिका 'कमल संदेश' प्रकाशित करने वाले न्यास की ओर से छापी गई इस पुस्तिका के मुख्यपृष्ठ पर मोदी और अमित शाह की तस्वीर छापी गई है. इतना ही नहीं, पार्टी ने सीएए के बारे में पूरी जानकारी देने के लिए पर्चा भी छापा है, जिसमें महात्मा गांधी की तस्वीर छापकर विपक्ष द्वारा किए जा रहे विरोध का जवाब देने का भी प्रयास किया गया है.

यह भी देखें: -

पर्चे में बापू के बयान को भी महत्वपूर्ण स्थान दिया गया है. भाजपा कार्यकर्ता घर-घर जाकर पर्चा बांटेंगे, ताकि लोगों को इस कानून के बारे में पूरी जानकारी मिल सके. इससे पहले पीएम मोदी ने कहा था कि अर्बन नक्सल के जरिए एनआरसी के मुद्दे पर मुसलमानों में अफवाह फैलाई जा रही है. कई ऐसे भी पढ़े लिखे लोग हैं जिन्हें एनआरसी के बारे में पूरी जानकारी भी नहीं है और ऐसे लोग भ्रम फैला रहे हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नागरिकता संशोधन अधिनियम के खिलाफ विरोध कर रहे विपक्ष को निशाना साधा है.

उन्होंने रविवार को कहा था कि संसद में आपके भविष्य के लिए नागरिकता संशोधन कानून (CAA) 2019 पास किया गया है. कानून पर आप लोगों को गुमराह किया जा रहा है. कुछ राजनीतिक दल लोगों को भ्रमित कर रहे हैं और भड़का रहे हैं.

इनपुट आईएएनएस से भी 

Trending news