लंदन में ईवीएम हैकिंग का दावा, कहा-2014 में हुई धांधली, EC ने कहा-पूरी तरह सुरक्षित

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, एक अमेरिकी साइबर एक्सपर्ट का दावा है कि इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन को हैक किया जा सकता है. प्रेस कॉन्फ्रेंस में कांग्रेस के नेता कपिल सिब्बल भी पहुंचे. बीजेपी ने इस पर कांग्रेस पर निशाना साधा.

लंदन में ईवीएम हैकिंग का दावा, कहा-2014 में हुई धांधली, EC ने कहा-पूरी तरह सुरक्षित

लंदन : ईवीएम हैकिंग का भूत रह रहकर सामने आ जाता है. लंदन में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इस बात का दावा किया गया कि चुनाव में इस्तेमाल होने वाली ईवीएम पूरी तरह सुरक्षित नहीं हैं. इन्हें हैक किया जा सकता है. इस प्रेस कॉन्फ्रेंस को करने वाले सैयद सूजा ने कहा, ईवीएम को लेकर भारत में बड़ी साजिश हो रही है. बड़ी बात ये है कि इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में कांग्रेस के नेता कपिल सिब्बल भी पहुंचे. बीजेपी ने इस पर कांग्रेस पर निशाना साधा. बीजेपी के प्रवक्ता नलिन कोहली ने कहा, कांग्रेस विदेश ताकतों के हाथों में खेल रही है. वहीं चुनाव आयोग ने इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन को पूरी तरह सुरक्षित बताया.

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, एक अमेरिकी साइबर एक्सपर्ट का दावा है कि इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन को हैक किया जा सकता है. लंदन में चल रही हैकथॉन में इस साइबर एक्सपर्ट ने दावा किया है कि बीजेपी नेता गोपीनाथ मुंडे की 2014 में हत्या की गई थी. एक्सपर्ट सैयद सूजा का कहना है कि मुंडे इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन को हैक करने के बारे में जानते थे. भारत में इस्तेमाल की जाने वाली ईवीएम को डिजाइन करने वाले एक्सपर्ट ने यह भी दावा किया है कि महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश और गुजरात में भी धांधली हुई थी.

सूजा का तो ये दावा है कि 2014 के आम चुनाव में भी ईवीएम में गड़बड़ी की गई थी. वहीं इलेक्शन कमीशन ऑफ इंडिया ने कहा कि भारत में इस्तेमाल की जाने वाली मशीन पूरी तरह सेफ हैं.

मुद्दा चुनाव आयोग के सामने उठाएगा विपक्ष: ममता बनर्जी
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सोमवार को कहा कि विपक्षी पार्टियां अमेरिका के एक साइबर विशेषज्ञ की ओर से इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) की हैकिंग के बारे में किए गए दावे का मुद्दा चुनाव आयोग के समक्ष उठाएंगी. भारतीय पत्रकार संगठन (यूरोप) की ओर से लंदन में आयोजित एक कार्यक्रम में साइबर विशेषज्ञ ने दिखाया कि ईवीएम किस तरह से कथित तौर पर हैक की जा सकती हैं. तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता ने एक ट्वीट में कहा कि हर एक वोट बेशकीमती है और यह मुद्दा उठाया जाना चाहिए.

उन्होंने कहा, ‘‘हमारे महान लोकतंत्र का निश्चित तौर पर संरक्षण होना चाहिए. आपका हर वोट बेशकीमती है. ‘यूनाइटेड इंडिया ऐट ब्रिगेड’ रैली के बाद सभी विपक्षी पार्टियों ने ईवीएम के मुद्दे पर चर्चा की. हम साथ मिलकर काम कर रहे हैं और हमने 19 जनवरी को ही तय कर लिया था कि इस मामले को चुनाव आयोग के सामने लगातार उठाएंगे. हां, हर वोट अहम है.’