close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

UNGA में 4 और 7 नंबर का 'गेम' जिसने ध्वस्त कर दिए इमरान खान के मंसूबे

संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA ) में शनिवार को 4 और 7 नवंबर का गेम देखने को मिला. इस खेल ने पाकिस्तानी पीएम इमरान खान के मंसूबों को ध्वस्त कर दिया. 

UNGA में 4 और 7 नंबर का 'गेम' जिसने ध्वस्त कर दिए इमरान खान के मंसूबे
(फाइल फोटो)

न्यूयॉर्क: संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA ) में शनिवार को 4 और 7 नवंबर का गेम देखने को मिला. इस खेल ने पाकिस्तान (Pakistan) के पीएम इमरान खान (Imran Khan) के मंसूबों को ध्वस्त कर दिया. 

दरअसल संयुक्त राष्ट्र महासभा में शनिवार को 4 नंबर पर पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) को बोलने आना था और 7 नंबर पर इमरान खान को. पीएम मोदी ने अपने भाषण को विश्व शांति और पर्यावरण पर केंद्रित किया. पीएम ने अपने भाषण में शांति दूत भगवान बुद्ध और महात्मा गांधी का जिक्र किया. पीएम मोदी ने पूरी दुनिया से आतंकवाद के खिलाफ एकजुट होने का आह्वान किया. 

एक नजर पीएम मोदी और इमरान खान के भाषणों पर. 

पीएम मोदी ने भाषण में क्या कहा?
-आतंकवाद को पूरे विश्व के लिए चुनौती करार देते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इसके खिलाफ दुनिया से एकजुट होने का आह्वान किया और विश्व शांति के प्रति भारत के योगदान को रेखांकित करते हुए कहा कि हमने दुनिया को ‘युद्ध नहीं बुद्ध’दिए.

-आतंक के नाम पर बंटी दुनिया उन सिद्धांतों को ठेस पहुंचाती है, जिनके आधार पर संयुक्त राष्ट्र का जन्म हुआ. मैं समझता हूं कि आतंकवाद के खिलाफ पूरे विश्व का एकजुट होना अनिवार्य है.

-पीएम मोदी ने अपने संबोधन की शुरुआत में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को याद करते हुए कहा कि सत्य और अहिंसा का संदेश पूरे विश्व के लिए आज भी प्रासंगिक है.

-पीएम मोदी ने कहा कि हम उस देश के वासी हैं जिसने दुनिया को युद्ध नहीं, बुद्ध दिए हैं, शांति का संदेश दिया है. पीएम मोदी ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र शांति सेना में भारत ने सबसे ज्यादा योगदान दिया है .

क्या बोले इमरान खान?

-अपने देश और इसकी समस्या को नजरअंदाज करते हुए, इमरान खान ने अपना ध्यान पूरी तरह से कश्मीर पर दिया.

-उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि भारत के जम्मू एवं कश्मीर में जब कर्फ्यू हटेगा, तब वहां खूनखराबा होगा. तब क्या होगा. क्या किसी ने इस बारे में सोचा है.

-पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा, "नस्लीय श्रेष्ठता की भावना और घमंड की वजह से आदमी गलतियां करता है और गलत निर्णय लेता है."

-उन्होंने कहा, 'आरएसएस मुस्लिमों के जातीय सफाये पर विश्वास करता है और प्रधानमंत्री मोदी आरएसएस के नेता हैं.'