close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

हंसराज हंस ने खुद को बताया 'फकीर', कहा- PM मोदी पर सवाल उठाने वालों खुदा से डरो

गायकी में अहम मुकाम हासिल कर चुके हंस ने कहा, ‘‘जो कोई भी मोदी की ईमानदारी पर सवाल उठाता है उसे खुदा से डरना चाहिये. उसका ग्राफ रोज-ब-रोज नीचे आ जायेगा. 

हंसराज हंस ने खुद को बताया 'फकीर', कहा- PM मोदी पर सवाल उठाने वालों खुदा से डरो
.(फाइल फोटो)

नई दिल्ली: लोकसभा की उत्तर पश्चिम दिल्ली सीट से भाजपा प्रत्याशी हंसराज हंस ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर सवाल खड़ा करने वालों को खुदा से डरना चाहिये और वह यह बात बतौर ‘फकीर’ कह रहे हैं. हंस खुद को सूफी और ‘फकीर’ कहलाना पसंद करते हैं और वे अचानक से सुर्खियों में तब आये जब इस सीट से मौजूदा सांसद डॉ. उदित राज का टिकट कटने के बाद उन्हें इस सुरक्षित सीट से भाजपा ने अपना प्रत्याशी बनाने का ऐलान कर दिया. दिये एक विशेष साक्षात्कार में उन्होंने विपक्षियों के बाहरी उम्मीदवार होने के आरोप को खारिज करते हुये कहा कि इससे उनमें हार का खौफ दिखाई दे रहा है.

उन्होंने कहा, ‘‘मोदी की ईमानदारी पर कौन सवाल खड़े कर सकता है . जाओ और उनकी जायदाद की जांच करो. देखो उनकी मां, भाई और बहनें किस हालात में रह रहे हैं.’’ गायकी में अहम मुकाम हासिल कर चुके हंस ने कहा, ‘‘जो कोई भी मोदी की ईमानदारी पर सवाल उठाता है उसे खुदा से डरना चाहिये. उसका ग्राफ रोज-ब-रोज नीचे आ जायेगा.

मैं यह बात बतौर फकीर कह रहा हूं . अगर आपका दुश्मन भी कुछ अच्छा करता है तो आपको उसकी तारीफ करनी चाहिये.’’ उन्होंने कहा, ‘‘वह एक ऐसे इंसान हैं जिसने उस पाकिस्तान को सबक सिखाया जिसने हमारे लिए मुश्किलें बढ़ा रखीं थीं. सेना की भूमिका प्रशंसनीय है. यह पहले भी था लेकिन तब लोग ईमानदार नहीं थे, उनमें ऐसी योग्यता नहीं थी कि वे आदेश दे सकें .

हंस ने अपने राजनीतिक जीवन की परवाज 2008 में शिरोमणि अकाली दल से शुरू की
हमारे वीर जवान सारी जरूरतों को पूरा कर देंगे, उन्हें आदेश तो दीजिए.’’ पंजाब के जालंधर के रहने वाले हंस ने अपने राजनीतिक जीवन की परवाज 2008 में शिरोमणि अकाली दल से शुरू की . दिसम्बर 2014 में वह कांग्रेस में आ गये और 2016 में पाला बदल कर भाजपा में चले गये. हंस ने कहा, ‘‘इंसान का चरित्र कभी नहीं बदलता . 

सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी ने गुग्गन सिंह को तो कांग्रेस ने राजेश लिलोठिया को यहां से टिकट दिया है 
मैं राजनीति में दस सालों से हूं लेकिन अगर आप मेरे साथ कुछ वक्त बितायेंगे तो आपको समझ में आयेगा कि मेरी बातचीत में एक कलाकार की छाप है.’’ इस सीट पर मुकाबला त्रिकोणीय माना जा है. सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी ने गुग्गन सिंह को तो कांग्रेस ने राजेश लिलोठिया को यहां से टिकट दिया है. 

हंस ने कांग्रेस प्रमुख राहुल गांधी पर हमला बोलते हुये कहा, ‘‘उनके पास कोई नजरिया नहीं है . वह एक बच्चे की तरह दिखते हैं और राफेल, राफेल की रट लगाये हुये हैं .’’ लोकगायक के रूप में मशहूर हंस को हिंदी फिल्म बिच्छू के एक गीत ‘दिल टोटे टोटे हो गया’ से खासी प्रसिद्धि मिली थी.