भारत और ईरान इस देश में शांति के लिए करेंगे काम, चीन को मिला एक और झटका

मॉस्को से वापस लौटते समय अचानक ईरान दौरे पर पहुंचे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने रविवार को तेहरान में ईरान के रक्षा मंत्री ब्रिगेडियर जनरल अमीर हातमी से मुलाकात की.

भारत और ईरान इस देश में शांति के लिए करेंगे काम, चीन को मिला एक और झटका
ईरानी पक्ष के साथ बैठक करते हुए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह

तेहरान: मॉस्को से वापस लौटते समय अचानक ईरान दौरे पर पहुंचे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने रविवार को तेहरान में ईरान के रक्षा मंत्री ब्रिगेडियर जनरल अमीर हातमी से मुलाकात की. इस दौरान दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंधों से जुड़े कई महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा की गई.

क्षेत्रीय सुरक्षा के मुद्दे पर चर्चा की गई
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि बैठक में क्षेत्रीय सुरक्षा के मुद्दे पर भी चर्चा हुई. जिसमें अफगानिस्तान में शांति और स्थिरता बहाल करने का मुद्दा भी शामिल था. सौहार्दपूर्ण माहौल में हुई इस बैठक में दोनों नेताओं भारत- ईरान के वर्षों पुराने सांस्कृतिक, भाषाई और सामाजिक रिश्तों को मजबूत करने पर बल दिया. इस दौरान दोनों देशों के संबंधों को अगले स्तर तक ले जाने के तरीकों पर भी चर्चा की गई. 

SCO की बैठक से लौटते समय अचानक ईरान पहुंच गए थे राजनाथ
बताते चलें कि रक्षा मंत्री SCO की बैठक में भाग लेने के लिए मॉस्को गए थे. जहां पर चीन के रक्षा मंत्री वेई फांगहे ने उनसे बैठक करने का अनुरोध किया. उस बैठक में राजनाथ सिंह ने चीनी पक्ष को खरी- खरी सुनाई और उसे लद्दाख में पुरानी स्थिति फिर से बहाल करने को कहा. वहां से वापस लौटते समय राजनाथ सिंह शनिवार को अचानक ईरान पहुंच गए थे. अफगानिस्तान में चीन अपना प्रभाव बढ़ाने की कोशिश कर रहा है. ऐसे में भारत- ईरान में सहमति बनने के बाद चीन को झटका लगना तय माना जा रहा है. 

ये भी देखें-