Light Combat Helicopter: सेना को मिला पहला कॉम्बैट हेलिकॉप्टर, जमीन से आसमान तक मचाएगा तबाही; जानें खासियत
topStorieshindi

Light Combat Helicopter: सेना को मिला पहला कॉम्बैट हेलिकॉप्टर, जमीन से आसमान तक मचाएगा तबाही; जानें खासियत

LCH: भारतीय सेना को पहला स्वदेशी लाइट कॉम्बैट हेलिकॉप्टर मिल गया है. हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (HAL) ने आर्मी एविएशन कॉर्प्स के डायरेक्टर जनरल को आज ये खास हेलीकॉप्टर सौंपा.

Light Combat Helicopter: सेना को मिला पहला कॉम्बैट हेलिकॉप्टर, जमीन से आसमान तक मचाएगा तबाही; जानें खासियत

Indian Army first LCH: भारतीय सेना के लड़ाकू विमानों में एक नया हेलीकॉप्टर शामिल हो गया है. आज (29 सितंबर को) हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (HAL) ने स्वदेशी लाइट कॉम्बैट हेलिकॉप्टर (Light Combat Helicopter - LCH) को सेना को सौंपा. ये अपनी तरह का देश का पहला हेलीकॉप्टर है. HAL ने इसे आर्मी एविएशन कॉर्प्स (Army Aviation Corps) के डायरेक्टर जनरल को सौंप दिया है.

सीमाओं की निगरानी में होगी आसान

लाइट कॉम्बैट हेलिकॉप्टर के सेना के बेड़े में शामिल होने के बाद सेना की युद्धक क्षमता में काफी बढ़ोतरी हो गई है. ये कहां तैनात किया जाएगा, इसे लेकर अभी सेना की तरफ से कुछ साफ नहीं किया गया है. लेकिन अभी इसे जोधपुर के स्क्वॉड्रन में तैनात किया गया है. इस हेलीकॉप्टर के शामिल होने के बाद देश की सीमाओं की निगरानी आसान हो जाएगी. बताया जा रहा है कि इसे चीन की सीमा पर तैनात किया जा सकता है.

ये है हेलीकॉप्टर की खासियत

आपको बता दें कि इस हेलीकॉप्टर में दो लोगों के बैठने की जगह है. इसकी लंबाई 51.10 फीट है वहीं ये 15.5 फीट ऊंचा है. इस हेलीकॉप्टर की मदद से 700 किलोग्राम तक वजन के हथियार ले जाए जा सकते हैं. इसकी अधिकतम स्पीड 268 किमी प्रतिघंटा है, वहीं इसकी रेंज 550 किलोमीटर है. ये एक बार में करीब 3.10 घंटे तक उड़ान भर सकता है. वहीं, इसे 6500 फीट की ऊंचाई तक  
उड़ाया जा सकता है.

बॉडी और रोटर पर नहीं होगा गोली का असर

लाइट कॉम्बैट हेलिकॉप्टर हर तरह के मौसम में उड़ान भर सकते हैं. इनकी बॉडी काफी स्ट्रॉग है. इसकी बॉडी और रोटर पर किसी भी गोली का असर नहीं होगा. LCH में 20 एमएम गन है, 70 एमएम रॉकेट है और एयर टू एयर मिसाइल है. इसके एवियॉनिक्स और आर्म को अगर जोड़ दे तो ये टारगेट को खोज सकता है और बर्बाद कर सकता है चाहे वो हवा में हो या जमीन पर हो. मिशन के दौरान इस अटैक हेलीकॉप्टर को मैन्युवल किया जाता है. इसे 180 डिग्री पर खड़ा किया जा सकता है और 360 डिग्री पर तेजी से घुमाया जा सकता है.

ये ख़बर आपने पढ़ी देश की नंबर 1 हिंदी वेबसाइट Zeenews.com/Hindi पर

Trending news