close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल ने अमरनाथ श्राइन बोर्ड का किया पुनर्गठन

अमरनाथजी श्राइन बोर्ड (एसएएसबी) के नौ सदस्यीय बोर्ड का तीन वर्ष की अवधि लिए पुनर्गठन किया गया है.

जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल ने अमरनाथ श्राइन बोर्ड का किया पुनर्गठन
जम्मू और कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक (फाइल फोटो)

जम्मू: जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने श्री अमरनाथजी श्राइन बोर्ड (एसएएसबी) के नौ सदस्यीय बोर्ड का तीन वर्ष की अवधि लिए पुनर्गठन किया है. एक आधिकारिक प्रवक्ता ने यह जानकारी दी. 

प्रवक्ता ने बताया कि एसएएसबी के अध्यक्ष की हैसियत से मलिक ने स्वामी अवधेशानंद गिरी जी महाराज, प्रोफेसर अनिता बिल्लावारिया, पंडित भजन सोपोरी, भारतीय वन सेवा (आईएफएस) के सेवानिवृत अधिकारी डॉ. सी एम सेठ, डॉ. देवी प्रसाद शेट्टी, डी सी रैना, डॉ. सुदर्शन कुमार, तृप्त धवन और प्रोफेसर विश्वमूर्ति शास्त्री को बोर्ड का सदस्य नियुक्त किया है. 

महाराज हिंदू धर्म आचार्य सभा ट्रस्ट के अध्यक्ष और विश्व धर्मगुरू परिषद के मनोनीत सदस्य हैं. सोपोरी प्रसिद्ध संतूर वादक हैं. शेट्टी जानेमाने डॉक्टर और नारायण हेल्थ अस्पताल समूह के अध्यक्ष एवं संस्थापक हैं जबकि रैना जम्मू-कश्मीर के महाधिवक्ता हैं. 

प्रवक्ता ने बताया कि सेठ भारतीय वन सेवा के सेवानिवृत अधिकारी और राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष हैं. अभी वह जम्मू-कश्मीर राज्य सांस्कृतिक एवं धरोहर प्राधिकरण के सदस्य और राज्य जैव विविधता बोर्ड के सदस्य हैं. कुमार जानेमाने वैज्ञानिक और रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) के पूर्व महानिदेशक हैं. 

उन्होंने कहा कि बिल्लावारिया जम्मू विश्वविद्यालय में इतिहास विभाग की प्रमुख हैं और धवन व्यक्ति विकास केंद्र के ट्रस्टी हैं. वह उत्तर भारत में आर्ट ऑफ लिविंग की सभी गतिविधियों की निगरानी करते हैं. प्रवक्ता ने बताया कि शास्त्री जानेमाने संस्कृत एवं वैदिक विद्वान हैं. वह अभी श्री माता वैष्णो देवी गुरूकुल के निदेशक हैं.