अजीत जोगी के निधन से सियासी जगत में शोक की लहर, CM बघेल समेत कई नेताओं ने दी श्रद्धांजलि

छत्तीसगढ़ के पहले मुख्यमंत्री रहे अजीत जोगी का 74 वर्ष की उम्र में शुक्रवार को निधन हो गया है. रायपुर के निजी अस्पताल श्री नारायण में उन्होंने अंतिम सांस ली. अजीत जोगी के निधन से सियासी जगत में शोक की लहर है.

अजीत जोगी के निधन से सियासी जगत में शोक की लहर, CM बघेल समेत कई नेताओं ने दी श्रद्धांजलि
छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम अजीत जोगी का निधन

रायपुर: छत्तीसगढ़ के पहले मुख्यमंत्री रहे अजीत जोगी का 74 वर्ष की उम्र में शुक्रवार को निधन हो गया है. रायपुर के निजी अस्पताल श्री नारायण में उन्होंने अंतिम सांस ली. अजीत जोगी के निधन से सियासी जगत में शोक की लहर है. छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल समेत कई राजनेताओं ने उनके निधन पर शोक व्यक्त किया.

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ट्वीट कर लिखा ‘प्रथम मुख्यमंत्री श्री अजीत जोगी का निधन छत्तीसगढ़ प्रदेश के लिए एक बड़ी राजनीतिक क्षति है। हम सभी प्रदेशवासियों की यादों में वो सदैव जीवित रहेंगे। विनम्र श्रद्धांजलि। ॐ शांति:’

प्रदेश की राज्यपाल अनुसुइया उइके ने लिखा ‘छत्तीसगढ़ के प्रथम मुख्यमंत्री श्री अजीत जोगी के निधन पर मुझे गहरा दुःख हुआ। मैं उनकी आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना करती हूं.

पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह ने अजीत जोगी के निधन को अपूरणीय क्षति बताते हुए ट्विटर पर लिखा ‘आज प्रदेश के प्रथम मुख्यमंत्री श्री अजीत जोगी जी के देहांत से हृदय को गहरा दुख पहुँचा है। उनका निधन प्रदेश के लिए अपूरणीय क्षति है, आज श्री अजीत जी के साथ प्रदेश का एक राजनीतिक इतिहास समाप्त हो गया है’

वहीं मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने भी अजीत जोगी के निधन पर दुख व्यक्त किया. उन्होंने ट्वीट किया कि ‘छत्तीसगढ़ के वरिष्ठ नेता और पूर्व मुख्यमंत्री श्री अजीत जोगी जी के निधन से दुःखी हूँ। मैं उनके चरणों में श्रद्धासुमन अर्पित करता हूँ’

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी ट्वीट किया कि छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री श्री अजीत जोगी के दुःखद निधन का समाचार प्राप्त हुआ. वे पिछले कुछ समय से अस्वस्थ थे।परिवार के प्रति मेरी शोक संवेदनाएँ.

 

जोगी के निधन पर बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने उन्हें अच्छा प्रशासक बताया और उनके इंदौर कलेक्टर के दौरान लिए बड़े फैसले को भी सराहा. कैलाश विजयवर्गीय ने लिखा इंदौर कलेक्टर रहते हुए, उन्होंने कई बड़े फैसले लिए, जिनका शहर को लाभ मिला। वे अच्छे प्रशासक होने के साथ बहुत अच्छे व्यक्ति भी थे। ईश्वर उन्हें अपने श्रीचरणों में स्थान दे.' ॐ शांति!.

 

WATCH LIVE TV: