शादी के कार्ड पर लिखवाया, एक बार फिर मोदी सरकार, आशीर्वाद में मांगा BJP के लिए वोट

 बेटी के विवाह आयोजन में शादी के आमंत्रण पत्र छपवाये हैं जिस पर ना सिर्फ आने वाले लोकसभा चुनाव में बीजेपी को वोट देकर पीएम नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री बनाने की बात कही है.

शादी के कार्ड पर लिखवाया, एक बार फिर मोदी सरकार, आशीर्वाद में मांगा BJP के लिए वोट
शादी के कार्ड के अंदर मोदी सरकार की योजनाओं और कांग्रेस सरकार की योजनाओं मैं अंतर बताया गया है.

अजय शर्मा/भोपालः लोकसभा चुनाव की तारीखों के ऐलान के पहले से ही जहां सभी पार्टियां हर जगह पर एक्टिव हो गई हैं तो वहीं पार्टी के समर्थकों ने भी अपने स्तर पर पार्टियों के लिए वोट जुटाने की कोशिश शुरू कर दी है. ऐसा ही कुछ देखने को मिला राजधानी भोपाल में. जहां हर कोई अपने होने वाले शादी समारोह को खास बनाने के लिए अलग-अलग तरह के कार्ड छपवाता है तो वहीं राजधानी में हो रहे ऐसे ही एक वैवाहिक आयोजन पर पीएम मोदी लोकप्रियता का असर देखने को मिल रहा है. इसे पीएम मोदी की लोकप्रियता कहें या बीजेपी की प्रचार की रणनीति आर्थिक रूप से बेहद कमजोर माने जाने वाले एक परिवार में हो रहे बेटी के विवाह आयोजन में शादी के आमंत्रण पत्र छपवाये हैं जिस पर ना सिर्फ आने वाले लोकसभा चुनाव में बीजेपी को वोट देकर पीएम नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री बनाने की बात कही है, बल्कि बाकायदा शादी के कार्ड के अंदर मोदी सरकार की योजनाओं और कांग्रेस सरकार की योजनाओं मैं अंतर बताया गया है.

PICS: शादी को यादगार बनाने का अनोखा तरीका, कपल ने डिजाइन किया 'What's App Card'

शादी के कार्ड के अलावा एक बुकलेट छापी गई है, जिसमें मोदी सरकार के कार्यकाल की पूरी जानकारी दी गई है. यही नहीं कार्ड के अंदर आर्थिक रूप से बेहद कमजोर माने जाने वाले इस परिवार ने दो कदम और आगे जाकर एक अपील छापी है कि यदि आप आशीर्वाद स्वरूप कुछ देना चाहते हैं तो आने वाले लोकसभा चुनाव में पीएम नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री के रूप में चुने और बीजेपी को वोट करें यही बेटी को आशीर्वाद होगा.

शादी के कार्ड में मेहमानों से मांगा अनोखा गिफ्ट, '2019 चुनाव में पीएम मोदी को करें वोट'

यह पूरा मजमून उस शादी के कार्ड का है जिससे करौंद कि हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी में रहने वाले कमलेश यादव ने अपनी बहन "तुलसा" के लिए छपवाये कार्ड में दिया है. कमलेश ना तो बीजेपी के पदाधिकारी हैं ना ही नेता है ना ही बीजेपी के कार्यकर्ता के रूप में काम करते हैं बस पीएम मोदी की योजना और कामकाज के तरीके से प्रभावित हैं बेहद सामान्य परिस्थितियों में रहने वाले परिवार ने वैवाहिक आयोजन में 15 हजार रूपये सिर्फ शादी के कार्ड के लिए ही खर्च किए हैं. पिछले 2 महीने से परिवार इस प्लानिंग में लगा था.