मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमण की स्थिति जानने के लिए केंद्र ने भेजी दो सदस्यीय टीम

केंद्रीय हेल्थ टीम उज्जैन में रुक कर कोरोना महामारी की रोकथाम के लिए रणनीति बनाएगी और रिपोर्ट तैयार करेगी. केंद्र ने इस तरह की 20 टीमें तैयार की हैं. 

मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमण की स्थिति जानने के लिए केंद्र ने भेजी दो सदस्यीय टीम
उज्जैन पहुंची केंद्र की दो सदस्यीय टीम.

उज्जैन: इंदौर और भोपाल के बाद उज्जैन, मध्य प्रदेश का कोरोना संक्रमण से सर्वाधिक प्रभावित जिला है. उज्जैन में कोरोना से होने वाली मौतों की संख्या मध्य प्रदेश में सबसे ज्यादा है. कोरोना वायरस उज्जैन में अपने पैर पसारता चला जा रहा है.

उज्जैन के आलोट से सांसद अनिल फिरोजिया ने कोरोना संक्रमण पर काबू पाने के लिए केंद्रीय स्वास्थ मंत्री हर्षवर्धन से जिले में एक विशेषज्ञ टीम भेजेने का आग्रह किया था. केंद्र सरकार ने पब्लिक हेल्थ डिपार्टमेंट के दो सदस्यों को उज्जैन भेज दिया है.

मध्य प्रदेश में महंगी हो सकती है शराब, कोरोना सेस लगाने की तैयारी में शिवराज सरकार

रविवार को दोनों सदस्य उज्जैन पहुंच गए. यह टीम कोरोना संक्रमण के परीक्षण के लिए इंदौर भी जाएगी. केंद्रीय हेल्थ टीम उज्जैन में रुक कर कोरोना महामारी की रोकथाम के लिए रणनीति बनाएगी और रिपोर्ट तैयार करेगी. केंद्र ने इस तरह की 20 टीमें तैयार की हैं. 

ये टीमें देश के अलग-अलग शहरों में जाकर कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए उपाय खोजेंगी. ये टीमें कोरोना प्रभावित शहर या क्षेत्र में कमियों को परखेंगी, स्थानीय प्रशासन के साथ कोरोना का प्रसार रोकने के लिए रणनीति बनाएंगी और फाइनल रिपोर्ट बनाकर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय को सौंपेंगी.

WATCH LIVE TV