नक्लगढ़ में CRPF ने किया क्रिकेट का आयोजन, पुरस्कार में दिए कंबल, टीन और मच्छरदानी

सिविक एक्शन प्रोग्राम में पब्लिक की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए उनकी रोजमर्रा की जिंदगी में काम आने वाले बहुत सी चीजों को बांटा गया है. 

नक्लगढ़ में CRPF ने किया क्रिकेट का आयोजन, पुरस्कार में दिए कंबल, टीन और मच्छरदानी
(फोटो साभार: twitter/@crpfindia)

गरियाबंदः नक्सल प्रभावित इलाका इन्दागांव के सीआरपीएफ केम्प में 211 वीं वाहिनी के जवानों द्वारा सिविक एक्शन कार्यक्रम का आयोजन किया, जिसमें ग्रामीणों के अलावा स्कूली बच्चों ने भी बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया. सीआरपीएफ जवानों ने यहां क्रिकेट मैच का आयोजन किया गया था, जिसमें कुल 24 टीमों ने हिस्सा लिया था. क्रिकेट मैच का आज फाइनल मैच रहा, जिसमें सहबिनकछार ने प्रथम स्थान हासिल किया है. वहीं सीआरपीएफ कमांडेट ने कहा की आज का यह सिविक एक्शन प्रोग्राम में पब्लिक की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए उनकी रोजमर्रा की जिंदगी में काम आने वाले बहुत सी चीजों को बांटा गया है. जैसे हमने लोगों के जरूरतों के हिसाब से कई घर में टीन नहीं थी तो टीन दिया, कंबल नहीं थी कंबल दी, मच्छरदानी दिया गया.

सीआरपीएफ जवान ने पेश की इंसानियत की मिसाल, मौत से जूझ रहे नक्‍स‍ली को दिया अपना खून

ये सभी चीजें उनकी रोजमर्रा जिंदगी में काम आने वाली थीं, जिसे हमने इस खेल के विजेताओं सहित दूसरों को भी दिए. बच्चों को खेलने के लिए स्पोर्ट्स आइटम दिए गए. यहां एक बहुत बड़ा क्रिकेट मैच का आयोजन किया गया, जिसमें 24 टीमों ने भाग लिया और आठ टीमों का सिलेक्शन कर इनको क्रिकेट किट प्रदान किया गया. इसके साथ ही इन्हें यूनिफार्म भी दी गई, ताकि वह बच्चे भविष्य में अच्छे से खेल सकें. बता दें नक्सल प्रभावित इलाकों में पुलिस और जनता के बीच काफी फासला है, ऐसे में अगर पुलिस इस तरह के कार्यक्रमों का आयोजन करती है तो इनके बीचे आपसी तालमेल बेहतर होगा, जो कई मायनों में फायदेमंद साबित हो सकता है.

जम्‍मू-कश्‍मीर: CRPF कैंप पर हमला करने वाले जैश के आतंकी को एनआईए ने किया गिरफ्तार

सीआरपीएफ के एक जवान ने बताया कि बच्चों को किट और यूनिफॉर्म देने से वह बेहद खुश थे, जिसके चलते उन्होंने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया. इससे हमें बहुत ज्यादा लाभ होता है. हम लोग जब भी किसी गांव में जाते हैं, तो गांव के लोग हमें अपने घर बुलाते हैं. बैठने के लिए जिससे आपसी मित्रता बढ़ती है. निश्चित ही इससे और मित्रता बढ़ेगी. पुलिस और पब्लिक के बीच एक गेप है वह दूर हो रहा है. हमको बहुत सारी चीजें पब्लिक से फायदा होगी और आपसी तालमेल बना रहेगा.