अनलॉक होते ही छत्तीसगढ़ की अर्थव्यवस्था ने पकड़ी रफ्तार, GST संग्रह के साथ वाहनों की बिक्री बढ़ी

लॉकडाउन के दौरान भी छत्तीसगढ़ में जीएसटी में इजाफा हुआ है. पिछले साल जून महीने के मुकाबले इस साल जून में 22 फीसदी ज्यादा जीएसटी का संग्रह हुआ है. वर्ष 2019 में जहां 2,093 करोड़ रुपए जीएसटी संग्रह हुआ था, वहीं 2020 में 2,549 जीएसटी प्राप्त हुआ है.

अनलॉक होते ही छत्तीसगढ़ की अर्थव्यवस्था ने पकड़ी रफ्तार, GST संग्रह के साथ वाहनों की बिक्री बढ़ी
छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल. (File Photo)

रायपुर: कोरोना वायरस (कोविड-19) के चलते पूरे देश में जहां आर्थिक मंदी का माहौल है, वहीं अनलॉक के बाद छत्तीसगढ़ की अर्थव्यवस्था पूरी रफ्तार से चल पड़ी है. मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल के नेतृत्व में राज्य सरकार द्वारा किए गए सकारात्मक प्रयासों से राज्य में जीएसटी, आटोमोबाईल, कृषि सहित अन्य क्षेत्रों में तेजी देखी जा सकती है.

राज्य में जीएसटी संग्रह पिछले वर्ष की तुलना में जहां 22 प्रतिशत अधिक रहा है, वहीं वाहनों के रजिस्ट्रेशन में मई माह की तुलना में जून माह में साढ़े तीन गुना वृद्धि दर्ज की गई है. इसके साथ ही मनरेगा के तहत लोगों को रोजगार उपलब्ध कराने और वनवासियों को राहत पहुंचाने के लिए वनोपजों के संग्रह में छत्तीसगढ़ देश में पहले स्थान पर है.

मंत्रियों के बीच अंतर्कलह पर सीएम भूपेश बघेल ने कहा-गलतफहमी दूर कर लें

लॉकडाउन के दौरान भी छत्तीसगढ़ में जीएसटी में इजाफा हुआ है. पिछले साल जून महीने के मुकाबले इस साल जून में 22 फीसदी ज्यादा जीएसटी का संग्रह हुआ है. वर्ष 2019 में जहां 2,093 करोड़ रुपए जीएसटी संग्रह हुआ था, वहीं 2020 में 2,549 जीएसटी प्राप्त हुआ है. लॉकडाउन के दौरान छत्तीसगढ़ में ऑटोमोबाइल इंड्रस्ट्री में भी बेहतर कारोबार देखने को मिला है.

जून 2020 में जयपुर (राजस्थान) के बाद रायपुर (छत्तीसगढ) में सर्वाधिक कार और बाइक की बिक्री हुई है. रायपुर में मई माह में जहां 7 हजार 603 बाइकें बिकी थीं, वहीं जून माह में यह संख्या बढ़कर 27 हजार हो गई. इसी तरह मई माह में एक हजार 107 कारें बिकी थीं, वहीं जून में यह संख्या बढ़कर 2 हजार 889 हो गई. आरटीओ कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार लॉकडाउन अवधि में छत्तीसगढ़ में अप्रैल माह में 891 वाहन, मई माह में 9681 वाहन और जून माह में 32 हजार 982 वाहनों का रजिस्ट्रेशन में हुआ है.

WATCH LIVE TV