close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

CM कमलनाथ सरकार ने किया 'भोज मेट्रो' का ऐलान, कांग्रेस विधायक ने किया विरोध

सीएम कमलनाथ ने मेट्रो का नाम राजा भोज के नाम पर भोज मेट्रो रखा है क्योंकि का मानना है कि ये शहर राजा भोज का है और इस मेट्रो का नाम उन्हीं के नाम पर रखना चाहिए. 

CM कमलनाथ सरकार ने किया 'भोज मेट्रो' का ऐलान, कांग्रेस विधायक ने किया विरोध
मेट्रो के पटरी पर दौड़ने में अभी तीन साल से ज्यादा का समय है. फोटो Video Grab

नई दिल्ली:  मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamal Nath) ने आज भोपाल में मेट्रो परियोजना का शिलान्यास किया. सीएम कमलनाथ ने मेट्रो का नाम राजा भोज के नाम पर भोज मेट्रो रखा है क्योंकि का मानना है कि ये शहर राजा भोज का है और इस मेट्रो का नाम उन्हीं के नाम पर रखना चाहिए लेकिन सीएम के इस फरमान पर कई लोगों ने आपत्ति जताई है जिसमें उनके खुद के विधायक आरिफ मसूद भी शामिल हैं. 

मंच पर मुख्यमंत्री की घोषणा का विरोध करने वाले कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद अपनी बात पर कायम हैं. भोपाल (Bhopal) विधायक आरिफ मसूद का कहना है कि मैं बचपन से भोपाली हूं इसलिए चाहता हूं कि नाम भोपाल मेट्रो ही रखा जाए. पूरी दुनिया में भोपाल को भोपाल के नाम से जाना जाता है. दूसरी बड़ी योजनाओं का नाम राजा भोज के नाम से रखें मुझे कोई आपत्ति नहीं. भरे मंच से आरिफ मसूद ने राजा भोज के नाम पर मेट्रो का नाम से रखने का विरोध किया है. 

मध्य प्रदेशः CM कमलनाथ ने 'भोज मेट्रो' परियोजना का किया उद्घाटन, ऐसी होगी ट्रेन

बता दें मेट्रो रेल प्रोजेक्ट में 27 किलोमीटर में दो कॉरीडोर बनाए जाएंगे. एक कॉरिडोर करोंद सर्कल से लेकर एम्स तक और दूसरा भदभदा चौराहे से रत्नागिरी चौराहे तक होगा. हालांकि मेट्रो के पटरी पर दौड़ने में अभी तीन साल से ज्यादा का समय है, लेकिन भोपाल के लोगों ने इस परियोजना को लेकर खुशी जताई है.