ग्वालियर: मीटिंग के दौरान पार्टी कार्यालय में भिड़े भाजपाई, थाने पहुंचा मामला

दरअसल, गुरुवार की शाम को बीजेपी युवा मोर्च के प्रदेशाध्यक्ष वैभव पवार के स्वागत को लेकर एक मीटिंग रखी गई थी. इस दौरान पार्षद बलवीर सिंह तोमर व सैनिक प्रकोष्ठ के अध्यक्ष शीतल सिंह भदौरिया के बेटे पहुंचे थे.

ग्वालियर: मीटिंग के दौरान पार्टी कार्यालय में भिड़े भाजपाई, थाने पहुंचा मामला

वैभव शर्मा/ग्वालियर: ग्वालियर भाजपा कार्यालय में पार्षद बलवीर सिंह तोमर व सैनिक प्रकोष्ठ के अध्यक्ष शीतल सिंह भदौरिया के बेटे के बीच जमकर मारपीट हो गई. इस दौरान भाजपा कार्यालय से सड़क तक अफरा-तफरी मच गई. मामला इतना बढ़ा कि बात थाने पहुंच गई. जहां पर दोनों पक्षों ने एक दूसरे पर FIR दर्ज कराई है. फिलहाल पुलिस मामले की जांच के लिए मुखर्जी भवन के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे को खंगाल रही है.

नरसिंह मंदिर से चोरी हुईं शिव, कृष्ण, राधा और गणेशजी की 400 साल पुरानी कीमती मूर्तियां, देखें cctv footage 

दरअसल, गुरुवार की शाम को बीजेपी युवा मोर्च के प्रदेशाध्यक्ष वैभव पवार के स्वागत को लेकर एक मीटिंग रखी गई थी. इस दौरान उनके स्वागत के लिए पार्षद बलवीर सिंह तोमर व सैनिक प्रकोष्ठ के अध्यक्ष शीतल सिंह भदौरिया के बेटे पहुंचे थे. जिस वक्त वैभव पवार वहां पहुंचे उस वक्त दोनों पक्षों के बीच स्वागत को लेकर विवाद हो गया. विवाद इतना बढ़ा कि दोनों पक्ष के लोगों ने एक दूसरे की पिटाई कर दी. 

वहीं, इस बारे में जब शीतल सिंह भदौरिया के बेटे वीर विक्रम सिंह भदौरिया से बात की गई तो उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि छोटू तोमर व उसके साथियों ने कट्टे व पिस्टल के ब्ट से मारपीट की है. जबकि बलवीर सिंह तोमर का कहना है कि सभी लोग बैठक में आए थे. कोई हथियार लेकर नहीं आया था. 

दोस्त को मुश्किल में देख डॉगी ने पानी में लगा दी छलांग, फिर मुंह से खींच लाया बोट, देखें video

मामले में जिलाध्यक्ष कमल माखीजानी का कहना है कि बैठक के बाद पार्टी कार्यालय के बाहर झगड़ा होने की जानकारी मिली है. दोनों पक्षों के बीच विवाद की वजह पार्षदी के टिकट के दावेदारी को बताया जा रहा है. 

CM शिवराज के बेटे कार्तिकेय अपने पिता को नहीं इस नेता को मानते हैं अपना आदर्श, वजह भी बताई

WATCH LIVE TV-