MP: कथित दुर्व्यहार मामले में प्रियंका गांधी के समर्थन में कांग्रेसी, यूपी सरकार पर उठाए सवाल

 मंत्री पीसी शर्मा ने कहा कि पूरे मामले की जांच होनी चाहिए. मैं इस घटना की घोर निंदा करता हूं.  

MP: कथित दुर्व्यहार मामले में प्रियंका गांधी के समर्थन में कांग्रेसी, यूपी सरकार पर उठाए सवाल
प्रियंका गांधी वाड्रा द्वारा UP पुलिस पर लगाए गए दुर्व्यवहार के आरोप ने सियासी रंग ले लिया है.

भोपाल: शनिवार को उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) द्वारा UP पुलिस पर लगाए गए दुर्व्यवहार के आरोप ने सियासी रंग ले लिया है.

मध्य प्रदेश के कांग्रेस नेताओं ने केंद्र की मोदी सरकार और यूपी की योगी सरकार पर चौतरफा हमला बोला. मध्य प्रदेश के कानून मंत्री पीसी शर्मा ने उत्तर प्रदेश में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के साथ हुई अभद्रता पर सीएम योगी के नेतृत्व क्षमता पर सवाल उठाये. मंत्री पीसी शर्मा ने कहा कि पूरे मामले की जांच होनी चाहिए. पीसी शर्मा ने कहा कि प्रियंका गांधी के परिवार ने देश को आजाद करवाया है. मैं इस घटना की घोर निंदा करता हूं.

वहीं, मध्य प्रदेश के सहकारिता मंत्री गोविंद सिंह ने भी प्रियंका गांधी के साथ लखनऊ में हुई घटना का पुरजोर तरीके से विरोध किया. डॉ गोविंद सिंह ने कहा कि मोदी और योगी ने यूपी में आतंक मचा रखा है. मंत्री गोविंद सिंह ने कहा कि जो बीजेपी और संघ की संस्कृति है, उसी संस्कृति के हिसाब से लखनऊ में प्रियंका गांधी के साथ दुर्व्यवहार किया गया. कांग्रेस इस घटना की निंदा करती है. एक महिला कार्यकर्ता जो अत्याचार और अन्याय के खिलाफ लड़ रही है, उसके खिलाफ इस तरह का व्यवहार किया जाएगा तो पूरा मुल्क यह बर्दाश्त नहीं करेगा.

दरअसल, शनिवार को प्रियंका गांधी पूर्व आईपीएस एस.आर. दारापुरी के घर उनके परिवार से मिलने जा रही थीं. इस दौरान पुलिस पर प्रियंका गांधी ने आरोप लगाया था कि उनके साथ धक्का-मुक्की कर उनका गला पकड़ा गया. बता दें कि एस.आर. दारापुरी को सीएए और एनआरसी का विरोध करने पर पुलिस ने गिरफ्तार किया है और वो जेल में बंद हैं.

कांग्रेस नेताओं के बयान पर बीजेपी नेता विश्वास सारंग ने पलटवार किया. उन्होंने कहा कि पब्लिसिटी स्टंट के लिए व्यवस्था को बिगाड़ने का अधिकार किसी को नहीं है. प्रियंका गांधी वाड्रा और सोनिया गांधी को भी भारत की नागरिकता मिली है. कांग्रेस ने देश को तोड़ने की कोशिश हमेशा की है. विश्वास सारंग ने कहा कि प्रियंका गांधी मध्य प्रदेश में आएं. किसानों से मिलें, अतिथि विद्वानों से मिलें, जो ठंड में बैठे हैं. वो उनसे मिलने क्यों नहीं आतीं.