MP चुनावः वारासिवनी में BJP के लिए मुश्किलें खड़ी कर सकते हैं CM शिवराज के साले संजय मसानी

कांग्रेस में शामिल होने के तुरंत बाद ही मसानी ने सीएम शिवराज पर निशाना साधते हुए कहा था कि 'मध्य प्रदेश को अब शिवराज नहीं कमलनाथ की जरूरत है.'

MP चुनावः वारासिवनी में BJP के लिए मुश्किलें खड़ी कर सकते हैं CM शिवराज के साले संजय मसानी
फाइल फोटो

बालाघाटः मध्य प्रदेश के बालाघाट की वारासिवनी सीट से मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के सगे साले संजय सिंह मसानी को टिकट देकर कांग्रेस ने साबित कर दिया है कि राजनीति में दिल नहीं दिमाग से काम लेना जरूरी होता है. विधानसभा उम्मीद्वारों की चौथी लिस्ट में वारासिवनी विधानसभा सीट के लिए संजय सिंह मसानी का नाम चुनते हुए कांग्रेस ने न सिर्फ भाजपा बल्कि मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को बड़ा झटका दिया है. बता दें मसानी पहले भाजपा का हिस्सा हुआ करते थे, लेकिन विधानसभा टिकट न मिलने की आशंका के चलते उन्होंने भाजपा छोड़ कांग्रेस का दामन थाम लिया. कांग्रेस में शामिल होने के तुरंत बाद ही मसानी ने सीएम शिवराज पर निशाना साधते हुए कहा था कि 'मध्य प्रदेश को अब कमल नहीं कमलनाथ की जरूरत है.'

यें हैं CM शिवराज के साले संजय मसानी, कल तक थे कांग्रेस के निशाने पर अब बने दुलारे

वारासिवनी विधानसभा सीट
1,87,065 मतदाताओं वाली इस विधानसभा सीट पर कुल 93 हजार 844 पुरुष मतदाता और 93 हजार 221 महिला मतदाताएं हैं. फिलहाल बीजेपी के कब्जे वाली इस विधानसभा सीट पर मुकाबला हमेशा ही त्रिकोणीय रहता है. बीजेपी, कांग्रेस के बाद बसपा यहां तीसरे नंबर की पार्टी रही है. वारासिवनी विधानसभा सीट से विधायक योगेंद्र निर्मल भगवा ने 2013 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के अमृतलाल जायसवाल को 18 हजार मतों के अंतर से हराया था.

MP में कांग्रेस का हाथ थामने वाले शिवराज के साले का फिल्मों से भी नाता, अक्षय के साथ आ चुके हैं नजर

संजय सिंह मेसानी
वारासिवनी से भाजपा ने फिर से वर्तमान विधायक योगेंद्र निर्मल भगवा को ही प्रत्याशी बनाया है, लेकिन सीएम शिवराज के साले संजय सिंह मसानी के इस सीट से कांग्रेस प्रत्याशी के रूप में खड़ा होना भाजपा के लिए मुश्किलें खड़ा कर सकता है. बता दें कांग्रेस प्रत्याशी संजय सिंह मसानी राजनीति के साथ-साथ फिल्म जगत में भी काम कर चुके हैं. उन्होंने कई बॉलीवुड फिल्मों में काम किया है. हाल-फिलहाल में वह अक्षय कुमार स्टारर 'टॉयलेट एक प्रेम कथा' में नजर आए थे. 

MP Elections: Sanjay singh Mesani against his brother in law CM Shivraj in Waraseoni
वारासिवनी से कांग्रेस प्रत्याशी और सीएम शिवराज के साले संजय सिंह मसानी (फोटो साभारः facebook)

वारासिवनी में चुनावी समीकरण
वारासिवनी में जहां संजय सिंह मसानी पूरे जोर शोर से अपना चुनाव प्रचार कर रहे हैं तो वहीं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान यहां अपने ही साले के विरोधी और भाजपा प्रत्याशी योगेंद्र निर्मल के प्रचार-प्रसार में लगे हैं. जिससे यह मुकाबला सीधे सीएम शिवराज और उनके साले के बीच दिखाई दे रहा है. वहीं कांग्रेस से बागी नेता प्रदीप जायसवाल ने टिकट न मिलने पर निर्दलीय चुनाव लड़ने का फैसला लेकर वारासिवनी के मुकाबले को त्रिकोणीय बना दिया है. ऐसे में वारासिवनी में चुनावी मुकाबला संजय सिंह मसानी, योगेंद्र निर्मल भगवा के साथ प्रदीप जायसवाल की टक्कर कहीं न कहीं भाजपा और कांग्रेस के वोट बैंक को काफी प्रभावित कर सकती है.

MP चुनाव : दिग्विजय सिंह की शिवराज सिंह को खुली चुनौती, 'साहस है तो आ जाएं मैदान में'

वारासिवनी विधानसभा क्षेत्र के लोगों की समस्याएं
बता दें बालाघाट की यह विधानसभा सीट फिलहाल सूखे, पलायन और बेरोजगारी की समस्या से त्रस्त नजर आ रही है. अपने सुगंधित चावल के लिए मशहूर वारासिवनी की जनता क्षेत्र में ऐसा विधायक चाहती है जो कोरे वादे नहीं बल्कि लोगों की समस्याओं को हल करने का काम करे. वहीं अपनी जीत सुनिश्चित करने के लिए संजय सिंह मसानी हर संभव कोशिश करते नजर आ रहे हैं

वारासिवनी पिन कोड
481331