छत्तीसगढ़ पंचायत चुनाव: शुरू हुआ नामांकन, बीजेपी-कांग्रेस ने बनाई ये खास रणनीति

छत्तीसगढ़ में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए तीन चरणों में मतदान होगा. 28 जनवरी, 31 जनवरी और 3 फरवरी को वोटिंग होगी.

छत्तीसगढ़ पंचायत चुनाव: शुरू हुआ नामांकन, बीजेपी-कांग्रेस ने बनाई ये खास रणनीति
नक्सल प्रभावित जिलों और अन्य जगहों पर मतदान का समय अलग-अलग निर्धारित किया गया है.

लोकेंद्र त्यागी/रायपुर: नगरीय निकाय चुनाव के बाद छत्तीसगढ़ में अब पंचायत चुनाव को लेकर कांग्रेस-बीजेपी ने रणनीति बनानी शुरु कर दी है. बीजेपी और कांग्रेस इस बार कार्यकर्ताओं को पंच से लेकर सरपंच के पदों पर उतारने की योजना बना रही है. कांग्रेस ने ब्लॉक स्तर पर टीम बनाकर चुनाव जीतने की रणनीति बनाई है. वहीं, बीजेपी ने मंडल स्तर पर कार्यकर्ताओं की जिम्मेदारी तय कर चुनाव जीतने की तैयारी की है.

30 तारीख से शुरु हुई नामांकन प्रक्रिया
पंचायत चुनाव के लिए नामांकन प्रक्रिया 30 दिसंबर से शुरु हो गई है, जो 6 जनवरी तक चलेगी. 7 जनवरी को नामांकन पत्रों की जांच होगी. वहीं, नाम वापसी की आखिरी तारीख 9 जनवरी है. इसी दिन चुनाव चिह्न का भी आवंटन कर दिया जाएगा.  

नक्सल प्रभावित जिलों  में मतदान का समय अलग
छत्तीसगढ़ में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए तीन चरणों में मतदान होगा. 28 जनवरी, 31 जनवरी और 3 फरवरी को वोटिंग होगी. नक्सल प्रभावित जिलों और अन्य जगहों पर मतदान का समय अलग-अलग निर्धारित किया गया है. नक्सल इलाकों में सुबह 6 बजकर 45 मिनट से 2 बजे तक होंगे. वहीं, सामान्य जगहों पर सुबह 7 बजे से 3 बजे तक मतदान होगा.

6 चरणों में आएंगे नतीजे
निकाय चुनाव की तरह पंचायत चुनाव भी बैलेट पेपर से ही होंगे. पंच-सरपंच के नतीजे 30 जनवरी, 2 फरवरी और 5 फरवरी को आएंगे. वहीं, जिला पंचायत सदस्यों के नतीजे 31 जनवरी, 3 फरवरी और 6 फरवरी को आएंगे.